National

सेलेक्ट कमेटी करेगी CBI निदेशक आलोक वर्मा के भविष्य का फैसला, CJI नहीं होंगे समिति का हिस्सा 

विज्ञापन

New Delhi: सीबीआई विवाद के बाद केंद्र सरकार द्वारा छुट्टी पर भेजे गये एजेंसी के डायरेक्टर आलोक वर्मा को मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने दोबारा बहाल किया है. लेकिन सीबीआई के निदेशक आलोक वर्मा के भविष्य का फैसला सेलेक्शन कमेटी करेगी. जिसकी घोषणा आज सुप्रीम कोर्ट ने की. पीएम मोदी की अध्यक्षता वाली एक चयन समिति मामले पर निर्णय लेगी.

सीजेआई नहीं होंगे हिस्सा

इस सेलेक्ट कमेटी में प्रधानमंत्री के अलावे देश के मुख्य न्यायाधीश और लोकसभा के नेता प्रतिपक्ष को सदस्य बनाना था. लेकिन सीजेआई रंजन गोगोई ने इस समिति का हिस्सा ना बनते हुए, अपनी जगह जस्टिस एके सीकरी को नॉमिनेट किया है. दरअसल, फिलहाल लोकसभा में आधिकारिक तौर पर कोई विपक्ष का नेता नहीं है, ऐसे में सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी कांग्रेस के तौर पर मल्लिकार्जुन खड़गे इस कमेटी का सदस्य होंगे.

बुधवार रात होगी बैठक

सूत्रों की मानें तो इस सेलेक्ट कमेटी की बैठक बुधवार रात को हो सकती है. बैठक में सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा के भविष्य पर फैसला लिया जायेगा. अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि यह बैठक लोक कल्याण मार्ग स्थित प्रधानमंत्री आवास पर प्रस्तावित है.

ज्ञात हो कि शीर्ष अदालत ने मंगलवार को वर्मा को सीबीआई निदेशक के रूप में बहाल किया था. न्यायालय ने दो महीने पुराने सरकार के देर रात के अभूतपूर्व आदेश को खारिज किया था. सरकार ने इस आदेश में उनकी शक्तियां छीनकर उन्हें छुट्टी पर भेजा था. यह मामला वर्मा और राकेश अस्थाना के बीच भ्रष्टाचार के आरोप-प्रत्यारोप को लेकर शुरू हुआ था. बता दें कि वर्मा का सीबीआई निदेशक के रूप में दो साल का कार्यकाल 31 जनवरी को पूरा हो रहा है. इस बीच, आलोक वर्मा बुधवार को अपने कार्यालय लौटे.

इसे भी पढ़ेंः नेशनल हेराल्ड केसः राहुल और सोनिया गांधी की बढ़ी मुसीबत, इनकम टैक्स ने 100 करोड़ रुपये चुकाने का थमाया नोटिस

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: