न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

श्रीनगर :  सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में आईईडी  एक्सपर्ट जीनत उल-इस्लाम सहित दो आतंकवादी मार गिराये

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में शनिवार को सुरक्षाबलों के साथ हुई मुठभेड़ में खूंखार आतंकवादी जीनत उल-इस्लाम सहित दो आतंकवादी मारे गये.

20

Srinagar : जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में शनिवार को सुरक्षाबलों के साथ हुई मुठभेड़ में खूंखार आतंकवादी जीनत उल-इस्लाम सहित दो आतंकवादी मारे गये. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिलने पर दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के कटपोरा इलाके में शनिवार को सुरक्षाबलों ने घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया था. उन्होंने बताया कि तलाशी अभियान के दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोलियां चलाईं, जिसका सुरक्षाबलों ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया. इस मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गये.  अधिकारी ने बताया कि मौके से हथियार और गोला बारूद भी बरामद हुए हैं.  जानकारी दी गयी कि मारे गये आतंकवादियों में से एक की पहचान खूंखार आतंकवादी जीनत उल-इस्लाम के तौर पर हुई है जो अल-बद्र आतंकवादी समूह से जुड़ा था.

सेना ने 12 लाख रुपए का इनाम रखा था

दूसरे की पहचान शकील के रूप में की गयी है. इस्लाम, ‘ए++’ श्रेणी का आतंकी था। बीते साल नवंबर में उसने हिजबुल मुजाहिद्दीन छोड़ दिया था. उसके कुछ दिन बाद वह अल-बद्र से जुड़ गया था.  दोनों संगठनों के बीच अल-बद्र को मजबूत करने के लिए हुए समझौते के बाद वह इस (अल-ब्रद) आतंकी संगठन का हिस्सा बना था. अधिकारी ने बताया कि जीनत को आईईडी का एक्सपर्ट माना जाता था.   घाटी में बीते दिनों सुरक्षाबलों को आईईडी के जरिए निशाना बनाने की कई घटनाएं सामने आयी हैं.  माना जा रहा है कि इन घटनाओं में जीनत की भी सक्रिय भूमिका रही होगी; खूंखार आतंकी जीनत का बीते साल एक वीडियो खूब वायरल हुआ था, जिसमें वह कुछ अन्य आतंकियों के साथ बिरयानी खाते दिख रहा था.  जानकारों के अनुसार वह घाटी में सबसे पुराना आतंकी था;  वह आतंकी बुरहान वानी का नजदीकी माना जाता था. उस पर सेना ने 12 लाख रुपए का इनाम रख रखा था.

इसे भी पढ़ें : बैटल ऑफ 2019 :  राजनीतिक विश्लेषकों का कयास, 2014 के मुकाबले 80-90 सीटें खो सकती है भाजपा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: