Sci & Tech

#Sci&Tech स्पेस-एक्स ने नासा के दो अंतरिक्ष यात्रियों को कक्षा में भेजा, बनने जा रहा है इतिहास

Washington :  एलन मस्क की स्पेस-एक्स कंपनी द्वारा निर्मित रॉकेट यान ने अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र (आईएसएस) की तरफ बढ़ रहे नासा के दो अंतरिक्ष यात्रियों को फ्लोरिडा से शनिवार को सफलतापूर्वक कक्षा में भेजा. यह व्यावसायिक अंतरिक्ष यात्रा के इतिहास में नये अध्याय की शुरुआत है.

इसे भी पढ़ेंः खेल के मैदान से : महामारी के बावजूद फुटबाल की वापसी चाहते हैं ब्राजील के राष्ट्रपति जेरे बोलसोनारो

फ्लोरिडा के केनेडी अंतरिक्ष केंद्र से हुआ यह प्रक्षेपण इसलिए भी महत्त्वपूर्ण है क्योंकि यह करीब एक दशक में पहली बार है जब अमेरिकी जमीं से मानवों को कक्षा में भेजा गया है.

advt

नासा के अंतरिक्ष यात्री बॉब बेह्नकेन (49) और डोग हर्ले (53) को लेकर स्पेसएक्स क्रू ड्रैगन अंतरिक्षयान ने नासा के केनेडी अंतरिक्ष केंद्र के प्रक्षेपण परिसर से कंपनी के फाल्कन 9 रॉकेट के जरिए तीन बजकर 22 मिनट पर उड़ान भरी.

इस प्रक्षेपण के साथ ही स्पेस-एक्स पहली निजी कंपनी बन गई है जिसने मनुष्य को कक्षा में भेजा हो. इससे पहले केवल तीन सरकारों – अमेरिका, रूस और चीन को यह उपलब्धि हासिल है.

इसे भी पढ़ेंः #Corona: IIM रांची का कर्मचारी निकला कोरोना पॉजिटिव, झारखंड का आंकड़ा पहुंचा 595

फिर से इस्तेमाल हो सकने वाले, गमड्रॉप (कैंडी) आकार के इस यान का नाम क्रू ड्रैगन है जो अब अमेरिकी अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र के 19 घंटे के सफर पर ले जाएगा. यह अंतरिक्षयान रविवार को सुबह 10 बजकर 29 मिनट पर आईएसएस पर होगा.

adv

कोरोना वायरस के चलते पिछले तीन महीनों में एक लाख से अधिक देशवासियों को खो चुके अमेरिका के लिए यह सफल प्रक्षेपण खुशी का मौका लेकर आया है. इससे पहले पिछले हफ्ते खराब मौसम के चलते यह प्रक्षेपण टल गया था.

इसे भी पढ़ेंः महाराष्ट्र :  91 पुलिसकर्मियों में मिले कोरोना के नये केस, कुल 2416 जवान पॉजिटिव, 26 की हो चुकी है मौत

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button