न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सऊदी अरब ने माना, पत्रकार जमाल खशोगी हमारे दूतावास में मारे गये, अमेरिका आगबबूला

पत्रकार जमाल खशोगी मामले का पटाक्षेप हो गया है. लगभग दो सप्ताह तक इनकार करते रहने के बाद सऊदी अरब ने आखिरकार मान लिया कि पत्रकार जमाल खशोगी की मौत हो चुकी है.

172

Washington : पत्रकार जमाल खशोगी मामले का पटाक्षेप हो गया है. लगभग दो सप्ताह तक इनकार करते रहने के बाद सऊदी अरब ने आखिरकार मान लिया कि पत्रकार जमाल खशोगी की मौत हो चुकी है. सऊदी अरब के सरकारी टीवी ने खशोगी की हत्या की पुष्टि कर दी है. सरकारी टीवी ने शुरुआती जांच के हवाले से बताया है कि खशोगी तुर्की के इस्तांबुल स्थित सऊदी वाणिज्यिक दूतावास में एक संघर्ष के बाद मारे गये. सऊदी अरब के सरकारी टीवी के अनुसार इस मामले में डिप्टी इंटेलिजेंस चीफ़ अहमद अल असीरी और क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के वरिष्ठ सहयोगी साउद अल क़थानी बर्खास्त किये जा चुके हैं. सरकारी टीवी के अनुसार इस मामले में जारी जांच के क्रम में सऊदी अरब के 18 नागरिकों को हिरासत में लिया गया है.

बता दें कि यह पहला मौक़ा है जब सऊदी अरब की सरकार ने माना है कि पत्रकार जमाल खशोगी दूतावास में मारे गये हैं. इससे पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि उन्हें लगता है सऊदी अरब के लापता पत्रकार जमाल खशोगी मर चुके हैं.  साथ ही उन्होंने इसमें सऊदी अरब का हाथ होने पर बेहद गंभीर परिणामों की चेतावनी दी है.

इसे भी पढ़ें –   राफेल डील :  रिलायंस ग्रुप ने NDTV पर 10,000 करोड़ की मानहानि का मुकदमा किया

खशोगी अमेरिका के स्थायी निवासी थे और वॉशिंगटन पोस्ट के लिए काम कर रहे थे

ट्रंप का यह बयान सऊदी अरब एवं तुर्की के दौरे से लौटे विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ द्वारा जांच की जानकारी देने के बाद आया है. बता दें कि इस माह की शुरुआत में तुर्की की राजधानी इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब के दूतावास में प्रवेश करने के बाद से लापता हुए खशोगी के संबंध में आशंका जतायी गयी थी कि दूतावास के भीतर ही उनकी हत्या कर दी गयी है.  इस घटना के बाद से विश्व भर में और सबसे ज्यादा अमेरिका में रोष है. खशोगी अमेरिका के स्थायी निवासी थे और वॉशिंगटन पोस्ट अखबार के लिए काम कर रहे थे . एक अभियान रैली के लिए मोंटाना रवाना होने के दौरान उन्होंने ज्वाइंट फोर्स बेस एंड्र्यूज में संवाददाताओं से कहा, मुझे निश्चित तौर पर ऐसा ही लगता है.

इसे भी पढ़ें –  धू…धू…कर जल रहा था रावण, पटाखों के शोर के बीच ट्रेन की चपेट में आये 61 लोगों की मौत, 50 से अधिक घायल

मैं बयान देने वाला हूं और बहुत सख्त बयान देने वाला हूं

यह बेहद दुखद है. यह पहली बार है जब अमेरिका ने आधिकारिक तौर पर खशोगी की मौत के संबंध में कुछ स्वीकार किया है.  ट्रंप ने कहा, हम कुछ जांचों एव‍ं परिणामों का इंतजार कर रहे.  हमारे पास बहुत जल्द परिणाम होंगे और मुझे लगता है कि मैं बयान देने वाला हूं और बहुत सख्त बयान देने वाला हूं .  लेकिन हम तीन अलग-अलग जांचों का इंतजार कर रहे हैं और हम बहुत जल्द इसकी तह तक पहुंचने में कामयाब हो जाएंगे.  ट्रंप ने अब तक सऊदी अरब के खिलाफ कोई कड़ी कार्रवाई करने के बारे में कुछ नहीं कहा था. ट्रंप के साथ मुलाकात के दौरान पोम्पिओ ने सलाह दी थी कि सऊदी अरब को जांच पूरी करने के लिए कुछ और समय दिया जाना चाहिए.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: