न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सरायकेला मॉब लिंचिंग: एसपी ने खरसावां थाना प्रभारी और सिनी ओपी प्रभारी को किया निलंबित

879

Saraikela: सरायकेला एसपी कार्तिक एस ने मॉब लिंचिंग मामले में कार्रवाई करते हुए खरसावां थाना प्रभारी और सिनी ओपी प्रभारी को निलंबित कर दिया है. वहीं मामले की जांच के लिए एसआइटी गठित कर जांच शुरू की गयी है. इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.

mi banner add

इसे भी पढ़ें – सरायकेला में मॉब लिंचिंगः नफरत की आग ने आपके अपनों को हत्यारा बना ही दिया !

चोरी के आरोप में ग्रामीणों की पिटाई में गंभीर रूप से घायल तबरेज अंसारी को न्यायिक हिरासत में लेकर जेल भेज दिया गया था, जहां शनिवार को उसकी मौत हो गयी थी. इस मामले में तबरेज की पत्नी शहिस्ता परवीन ने सरायकेला थाना में रविवार को प्राथमिकी करायी. शहिस्ता ने हत्या की नीयत से तबरेज को घेर कर पीटने का आरोप लगाते हुए पप्पू मंडल समेत सौ लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी थी.

इसे भी पढ़ें – सीजेआइ ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठीः इलाहाबाद हाईकोर्ट के जज को हटाने की मांग

क्या है मामला

सरायकेला थाना में दर्ज प्राथमिकी के अनुसार तबरेज की पत्नी शहिस्ता परवीन ने कहा कि उसके पति तबरेज अंसारी 17 जून की रात को दो दोस्तों के साथ मोटरसाइकिल से जमशेदपुर के आजादनगर लौट रहे थे. इसी दौरान धातकीडीह गांव के पास पप्पू मंडल एवं अन्य ने चोरी के संदेह में उसे पकड़ लिया और खंभे से बांध कर बुरी तरह से पीटा. इस दौरान धार्मिक नारा लगाने के लिए भी मजबूर किया गया. लोगों की पिटाई से वह गंभीर रूप से घायल हो गया. बाद में पुलिस ने चोरी के मामले में उसे जेल भेज दिया.

दो दिन बाद तबीयत बिगड़ने पर उसे सदर अस्पताल भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गयी. बताया जाता है कि तबरेज अंसारी को चोरी करते हुए लोगों ने पकड़ा था. उसके पास से चोरी के सामान भी बरामद हुए थे. इस दौरान कुछ लोगों ने उसकी जम कर पिटाई कर दी. पुलिस ने चोरी के मामले में उसे जेल भेजा था. सरायकेला जेल में तबीयत बिगड़ने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी.

इसे भी पढ़ें – मसानजोर डैम पर बंगाल कर रहा मनमानी, हस्तक्षेप करे केंद्र : महेश पोद्दार

जानिए क्या है घटनाक्रम

17 जून : खरसावां के कदमडीहा निवासी तबरेज अंसारी को सरायकेला के धातकीडीह गांव के पास ग्रामीणों ने चोरी के आरोप में पकड़ लिया और उसकी बुरी तरह से पिटाई की.

18 जून : पुलिस ने चोरी का मामला दर्ज कर तबरेज को जेल भेज दिया.

 22 जून : जेल में तबीयत बिगड़ने पर उसे सरायकेला सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गयी.

23 जून : सरायकेला थाना में तबरेज की पत्नी शहिस्ता परवीन ने प्राथमिकी दर्ज करायी.

24 जून: मॉब लिंचिंग के मामले में सरायकेला एसपी कार्तिक एस ने कार्रवाई करते हुए खरसावां थाना प्रभारी और सिनी ओपी प्रभारी को निलंबित कर दिया.

इसे भी पढ़ें – चतराः आर्थिक तंगी से जूझ रहे पारा शिक्षक की उचित इलाज के अभाव में मौत

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: