न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सरायकेलाः पांच जवानों की हत्या में शामिल चार नक्सलियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

14 जून 2019 को पेट्रोलिंग से लौटते वक्त हुई थी जवानों की हत्या

1,229

Saraikela: जमशेदपुर पुलिस ने लाल आतंक पर लगाम लगाते हुये चार नक्सलियों को गिरफ्तार किया है. पकड़े गये नक्सलियों पर पुलिस के पांच जवानों की हत्या का आरोप है.

गौरतलब है कि 14 जून को तिरुलडीह थाना क्षेत्र के कुकड़ू बाजार में पेट्रोलिंग से लौट रहे तिरुलडीह थाना की पांच पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी गयी थी. इसी मामले चार नक्सलियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

Mayfair 2-1-2020

इसे भी पढ़ेंःराज्य में 29 हजार की जगह बचे हैं मात्र तीन हजार DDO, इस साल से सरकार खत्म कर रही पद

गिरफ्तार किये गये सभी नक्सली महाराजा प्रमाणिक दस्ता के सदस्य हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सभी नक्सलियों को पुलिस ने चौका थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया है. पुलिस फिलहाल उनसे पूछताछ कर रही है. एसपी ने नक्सलियों के गिरफ्तार होने की पुष्टि की है.

5 जवानों की हत्या में शामिल थे सभी 

उल्लेखनीय है कि 14 जून 2019 को शहर के तिरुलडीह थाना क्षेत्र के कुकड़ू बाजार में शाम करीब चार बजे पेट्रोलिंग के लिए निकले पुलिसकर्मियों पर नक्सलियों ने हमला कर दिया था. इस दौरान पुलिसकर्मियों को पहले चाकू मारा गया और फिर गोली मारकर उनकी हत्या कर दी गयी.

Vision House 17/01/2020

नक्सली दस्ते ने दो एएसआइ समेत पांच पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, छह बाइक से आये 10-12 नक्सलियों ने पुलिसकर्मियों पर अंधाधुंध फायरिंग की थी. इसमें एएसआइ गोवर्धन पासवान, एएसआइ मानोधन हांसदा, कॉन्स्टेबल धनेश्वर महतो, युधिष्ठिर और डिबरू पूर्ति की मृत्यु हो गयी थी.

Related Posts

#Jamshedpur: JSEB  ने फैक्ट्स के साथ खिलवाड़ करने पर टाटा स्टील को लगायी फटकार

कहा- गलत जानकारी देकर न बढायें कन्फ्यूजन, सही जानकारी के साथ करें मीटिंग

हालांकि, चालक सुखलाल कुदादा ने मौके से भाग कर अपनी जान बचायी थी.

महाराजा प्रमाणिक के दस्ते ने दिया था घटने को अंजाम

पांच पुलिसकर्मियों की हत्या के पीछे महाराजा प्रमाणिक के दस्ते का हाथ था. बता दें महाराजा प्रमाणिक पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ है.

इसे भी पढ़ेंःगोडसे महान, बैट से पीटा, मीडिया की औकात क्या, खून बहा देंगे और भाजपा खेल रही नोटिस-नोटिस

वहीं दूसरी ओर एक के बाद एक घटना को अंजाम देकर वह  लगातार क्षेत्र में दहशत फैलाने की कोशिश कर रहा है.  पिछले दो महीने के दौरान कोल्हान क्षेत्र में जितनी भी नक्सली घटनाएं हुई, उन सभी में महाराजा प्रमाणिक के दस्ते की संलिप्तता सामने आयी है.

पुलिस महाराजा प्रमाणिक और उसके दस्ते को मार गिराने के लिए जंगलों में लगातार अभियान चला रही है. लेकिन हर बार हुए मुठभेड़ में महाराजा प्रमाणिक बचकर निकलने में सफल हो रहा है.

कोल्हान क्षेत्र के अंतर्गत आनेवाले सरायकेला खरसावां, घाटशिला और चाईबासा के क्षेत्रों में 10 लाख का इनामी नक्सली महाराजा प्रमाणिक पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती बना हुआ है. महाराजा प्रमाणिक मूल रूप से सरायकेला जिला के ईचागढ़ थाना क्षेत्र के दारूदा गांव का रहने वाला है.

इसे भी पढ़ेंःपीड़ितों से मिलने की प्रियंका की जिद इंदिरा की बेलछी जिद को याद दिलाती है

Ranchi Police 11/1/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like