न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ATS इन्वेस्टिगेशन शुरू होने से पहले ही सरायकेला नक्सली हमले का हो गया खुलासा

पहली बार नक्सल वारदात की जांच करने वाली है एटीएस, तीन मामलों की प्राथमिकी को अलग से करेगी टेकओवर

266

Ranchi : सरायकेला नक्सली हमले का अनुसंधान एंटी टेररिस्ट स्क्वायड (एटीएस) करने वाली थी. लेकिन उसके शुरू होने के पहले पुलिस ने ही मामले का खुलासा करते हुए भाकपा माओवादी के महाराज प्रमाणिक दस्ते के चार नक्सलियों को गिरफ्तार कर लिया.

बता दें कि सरायकेला में साप्ताहिक हाट में पांच पुलिसकर्मियों की हत्या समेत सुरक्षा बलों पर हमले के तीन बड़े मामलों का अनुसंधान एटीएस को करना था. राज्य पुलिस के आइजी अभियान आशीष बत्रा ने इस संबंध में प्रस्ताव तैयार कर डीजीपी कमलनयन चौबे और सीआइडी मुख्यालय को भेजा था.

Sport House

सीआइडी के अधीन ही एटीएस कार्य करती है. एटीएस द्वारा माओवादी हमलों के तीनों मामलों में एटीएस थाने में अनुसंधान के लिए अलग से प्राथमिकी को टेकओवर किया जायेगा. गौरतलब है कि पहली बार एटीएस द्वारा नक्सल से जुड़े मामले का अनुसंधान किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : JJMP ने 21 जुलाई के झारखंड बंद के एलान को बताया झूठा, जारी किया वीडियो

इस तरह वारदात को दिया था अंजाम

गिरफ्तार किये सुनील टुडू, बुधराम मार्डी, श्रीराम मांझी और रामू लोहरा से पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि पैट्रोलिंग पार्टी में शामिल जवानों की हत्या कर हथियार व गोली लूटने की योजना अनल उर्फ रमेश ने बनायी थी. जबकि महाराज प्रमाणिक,  अमित मुंडा, अतुल टीपू, बुधराम मार्डी,रामू, श्रीराम मांझी व दस्ते के कुछ अन्य सदस्यों ने उसे अंजाम दिया.

Mayfair 2-1-2020

सात मोटरसाइकिलों पर तीन-तीन नक्सली सिविल कपड़ों में छोटे और धारदार हथियारों के साथ सवार होकर निकले. प्रत्येक मोटरसाइकिल 15 से 20 मिनट के अंतराल पर कुकड़ू हाट के लिए निकली.

अनल उर्फ रमेश ने तीन-चार दस्ता सदस्यों की छोटी-छोटी टीमें बना ली थी. एक टीम का नेतृत्व महाराज प्रमाणिक को, दूसरी टीम का नेतृत्व अमित मुंडा को और तीसरी टीम का नेतृत्व अतुल को और अन्य टीमों का नेतृत्व दस्ते के अन्य सदस्यों को दिया गया था.

अनल उर्फ रमेश ने कुकड़ू बाजार हाट की ओर जाने वाले रास्ते, एनएच 33 व अन्य जगहों पर स्थित पुलिस पोस्ट पर निगरानी के लिए कुछ लोगों को तैनात किया था. रामू उर्फ नरेश लोहार को चौका चौक के पास ,श्री राम मांझी को रडगांव के पास, टीपू को विजयगिरी सीआरपीएफ कैंप के पास तैनात किया गया था.

योजना के अनुसार महाराजा प्रमाणिक अपने दस्ते के हार्डकोर नक्सलियों तथा सक्रिय समर्थकों के साथ 14 जून को सुबह अरहंजा के जंगल से निकल गया था. सात मोटसाइकिलों में कुल 21 लोग सवार होकर कुकड़ू बाजार हाट पहुंचे. उन लोगों ने स्थानीय हाट बाजार से कुछ धारदार हथियार खरीदे और तिरुलडीह थाना की पुलिस की गतिविधि पर नजर रखने लगे.

इसे भी पढ़ें : आरिफ मोहम्मद खान ने कहा, तीन तलाक पर कानून नहीं बनाया, तो मोदी सरकार भी राजीव गांधी वाली गलती करेगी

कोल्डड्रिंक पीते पुलिसकर्मियों पर किया हमला 

शाम के वक्त जब पुलिस पार्टी के जवान दुकान के पास जाकर कोल्ड ड्रिंक पी रहे थे, एक जवान हाट के अंदर गया. उसी वक्त नक्सलियों ने पुलिसवालों को पीछे से पकड़ लिया और हाट बाजार में आये लोगों को भयभीत करने के लिए फायरिंग की.

एक-एक पुलिसवाले को तीन-चार नक्सलियों ने पकड़ा और धारदार हथियारों से गंभीर रूप से जख्मी करने के बाद छोटे हथियारों से गोली मारकर हत्या कर दी. उसके बाद उन लोगों ने सभी जवानों के हथियार, गोली, पर्स, मोबाइल लूट लिये.

पुलिसकर्मियों को पीछे से पकड़ने में जहां हार्डकोर नक्सली सुनील टूडू तथा बुधराम मार्डी और अन्य नक्सली शामिल थे वहीं पुलिसवालों के हत्या करने में महाराज प्रमाणिक, अमित मुंडा, अतुल व अन्य शामिल थे. हाट बाजार के अंदर गये पुलिसकर्मी को भी नक्सलियों ने पकड़कर मार डाला और उसके भी हथियार, मोबाइल आदि लूट लिये. इसके बाद उन लोगों ने पुलिस की गाड़ी में आग भी लगा दी और माओवाद जिंदाबाद का नारा लगाते हुए फायरिंग करते पुरानडीह मोड़ के रास्ते लेपाटांड़ मैदान पहुंचे. 

लेपाटांड़ फुटबॉल मैदान में हार्डकोर नक्सली बुधराम मार्डी के मोटरसाइकिल पर बैठे नक्सली अतुल ने लोगों की भीड़ देखकर पुलिस से लूटी हुई राइफल से हवाई फायरिंग भी की. इसके बाद सभी दस्ते के सदस्य धातकीडीह होते हुए एक नदी को पार कर हुंडी गांव पहुंचे. गांव में पूरा दस्ता एकत्र हुआ और सभी साउडीह गांव होते हुए बाहर निकल गये.

इसे भी पढ़ें : ऑडियो वायरलः धनबाद नगर आयुक्‍त ने स्थानीय नेता को फोन पर धमकाया, कहा – बेटा जेल भेज देंगे, बड़ी मार मारेंगे…

SP Deoghar

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like