BusinessSci & TechWorld

सैमसंग परिवार विरासत कर से निपटने के लिए दुर्लभ कलाकृतियां दान करेगा

Seoul :  सैमसंग का संस्थापक परिवार पिकासो और दालिस सहित हजारों दुर्लभ कलाकृतियों को दान करेगा और अरबों डॉलर चिकित्सा शोध के लिए देगा. ताकि पिछले साल चेयरमैन ली कुन ही के निधन के बाद भारी विरासत कर के भुगतान में मदद मिल सके.

सैमसंग ने बुधवार को कहा कि ली के परिवार में उनकी पत्नी और तीन बच्चे हैं, और उन्हें विरासत कर के रूप में 10.8 अरब अमेरिकी डॉलर से अधिक का भुगतान करना है.

इसे भी पढ़ें:भारत को सहायता : कनाडा एक करोड़ डॉलर देगा, ब्लैकस्टोन प्रमुख ने 50 लाख डॉलर की सहायता दी

यह राशि दक्षिण कोरिया के पिछले साल कुल संपत्ति कर का तीन गुना है. ली परिवार ने अगले पांच वर्षों के दौरान छह किस्तों में इस धनराशि के भुगतान की योजना बनाई थी और इस महीने पहली किस्त चुका भी दी.

सैमसंग के कारोबार पर अपना नियंत्रण बढ़ाने के लिए ली परिवार को कर भुगतान करना जरूरी है. कुछ विश्लेषकों का कहना है कि इस प्रक्रिया के परिणामस्वरूप पूरे समूह के गठन में बदलाव हो सकता है.

ऐसे में संपत्ति का एक बड़ा हिस्सा दान करने से भुगतान करने में आसानी होगी, क्योंकि दान की गई कलाकृतियों पर करों का भुगतान करने की जरूरत नहीं होगी.

इसे भी पढ़ें:गोवा में लगाया गया चार दिन का लॉकडाउन, पर्यटक नहीं निकल पायेंगे होटल के कमरे से

Related Articles

Back to top button