न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

सहिया इनसेंटिव पेमेंट सिस्टम रांची से पायलट प्रोजेक्ट के रूप में होगा शुरू

233
  • एक अप्रैल से सभी जिलों में किया जायेगा लागू
eidbanner

Ranchi : सहिया को उनके बेहतर कार्य को देखते हुए सहिया प्रोत्साहन राशि देने का निर्णय लिया गया है. सर्वप्रथम रांची की सहियाओं को प्रोत्साहन राशि दी जायेगी. राजधानी रांची को इसके लिए पायलेट प्रोजेक्ट के तहत चुना गया है. यह जानकारी स्वास्थ्य सचिव नितिन मदन कुलकर्णी ने बुधवार को समीक्षा बैठक में दी. बैठक का आयोजन सिविल सर्जन कार्यालय में किया गया था. कुलकर्णी ने सहिया प्रोत्साहन राशि को निर्धारित समय पर भुगतान करने का निर्देश दिया है. उन्होंने कहा कि यदि ऐसा नहीं हुआ, तो संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों पर कार्रवाई की जायेगी. स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि रांची जिला को सहिया प्रोत्साहन राशि भुगतान के लिए पायलट जिला के रूप में चुना गया है. यहां इस योजना को सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद एक अप्रैल 2019 से सभी जिलों में लागू कर दिया जायेगा.

योजना लागू करने में किसी समस्या का हवाला नहीं देने की दी चेतावनी

स्वास्थ्य सचिव ने प्रखंड लेखा प्रबंधकों को स्पष्ट आदेश देते हुए कहा कि योजना शुरू हो जाने के बाद इसे लागू करने में किसी तरह की समस्या का हवाला न दें. उन्होंने रांची जिला में स्वास्थ्य क्षेत्र में भी सुधार लाने का आदेश दिया. रांची की छवि बेहतर हो सके, इसी को ध्यान में रखते हुए यहां की सहियाओं को प्रोत्साहन राशि पहले देने का निर्णय लिया गया है. पूरी प्रक्रिया को सात हिस्सों में बांटकर एएनएम, सहिया साथी, बीपीएम-बीटीटी, एमओआईसी, बीएएम की जिम्मेदारी तय कर दी गयी है. स्वास्थ्य सचिव ने प्रखंडों में पुराने और खराब पड़े यूपीएस की मरम्मत कराने का भी निर्देश दिया. उन्होंने सहिया डायरी में भी आवश्यक बदलाव करने का आदेश दिया. वहीं, पल्स पोलियो राउंड में भी रांची के प्रदर्शन को खराब बताते हुए इसमें सुधार लाने की बात कही. वहीं, मौके पर सिविल सर्जन डॉ वीबी प्रसाद ने जिला और प्रखंड में सभी निर्धारित कर्मचारियों को जिम्मेदारी के साथ काम करने का आदेश दिया. उन्होंने कहा कि सहिया इनसेंटिव से संबंधित सभी दस्तावेज जिला लेखा प्रबंधक के पास हर महीने की निर्धारित तारीख तक आवश्यक रूप से पहुंच जायें. यदि ऐसा नहीं हुआ, तो संबंधित व्यक्ति पर कार्रवाई की जायेगी. हमें किसी भी हालत में इस पायलट प्रोजेक्ट में बेहतर प्रदर्शन करके दिखाना है. उन्होंने सचिव को भी इस बात का आश्वासन दिया कि रांची जिला अवश्य इसमें कामयाब होगा. बैठक में डॉ एके झा, एसीएमओ डॉ नीलम चौधरी, डॉ एके मिश्रा व अन्य स्वास्थ्य कर्मचारी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें- पारा शिक्षकों को मिल सकता है वेतनमान, विभाग को नियमावली बनाने का आदेश

इसे भी पढ़ें- झारखंडियों को उजाड़ने के लिए हो रहा मंडल डैम का पुनः शिलान्यास : बाबूलाल मरांडी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: