JharkhandRanchi

साहेबगंज महिला थाना प्रभारी मौत मामले की हो CBI जांच: बाबूलाल मरांडी

विशेष मेडिकल समिति गठित कर पोस्टमॉर्टम करने की मांग

Ranchi: साहेबगंज महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की की मौत पर भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने मौत को मर्डर मिस्ट्री करार दिया है. साथ ही CBI से जांच कराने एवं विशेष मेडिकल समिति गठित कर शव का पोस्टमॉर्टम कराने की मांग राज्य सरकार से की है.

उन्होंने कहा कि रूपा तिर्की तेज तर्रार महिला पुलिस अधिकारी थी. मौत के बाद जिस प्रकार से परिजनों ने आरोप लगाया है, वह संदेहास्पद मौत की श्रेणी में आता है. मृत महिला कि मां के द्वारा दिए गए आवेदन मामले की गंभीरता को समझने के लिए पर्याप्त एवं यथेष्ट हैं. मामला बेहद संवेदनशील है. आरोप ऐसे प्रभावशाली व्यक्ति पर है जो  इस सरकार में पहले से ही बदनाम एवं कुख्यात रहा है, जो मामले को रफादफा करवाने का प्रयास कर सकता है और सारे सबूत मिटवा सकता है. प्रदेश महिला मोर्चा (भाजपा) ने बाबूलाल की डिमांड से जुड़े आवेदन को राज्यपाल को ऑनलाइन भेज दिया है.

तरीके से हो पोस्टमार्टम

बाबूलाल के मुताबिक उक्त परिस्थितियों में सर्वप्रथम मृत महिला दारोग़ा के लाश का पोस्टमॉर्टम मेडिकल कालेज के वरीय डाक्टरों की टीम बनाकर करवायी जाय. साहिबगंज पुलिस पर आरोपी का इतना दबदबा है कि वहां की पुलिस इसकी निष्पक्ष जांच कर ही नहीं सकती. आदिवासी होनहार दारोग़ा युवती के कथित हत्या मामले की जाँच बिना विलम्ब सीबीआई को सुपुर्द कर देना चाहिए.

वहां की पुलिस अभियुक्तों को बचाने के लिये सबूतों को नष्ट करा सकती है. लड़की के परिजनों ने लगातार कुछ खास पुलिसकर्मी और सफेदपोश के द्वारा टॉर्चर करने का आरोप लगाया है, यह आरोप काफी संवेदनशील है. ऐसे मामले पर सरकार को यथाशीघ्र कार्रवाई करते हुए सीबीआई को जांच सौंपना चाहिए.

झामुमो विधायक ने भी की सीबीआइ जांच की मांग

बोरियो के झामुमो विधायक लोबिन हेंब्रम ने भी महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की की मौत की जांच सीबीआइ से कराने की मांग की है. उन्होंने कहा कि रूपा तिर्की एक ईमानदार अधिकारी के तौर पर जानी जाती थीं. वह महिलाओं के लिए प्रेरणादायक थी. एक साहसी थाना प्रभारी की मौत से वह दुखी हैं. इस मामले की सीबीआइ जांच हो ताकि उसके परिवार को न्याय मिल सके.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: