JamshedpurJharkhand

सहारा इंडिया के अधिकारियों ने सांसद से मुलाकात कर अपनी परेशानियों से अवगत करा सौंपा ज्ञापन, सांसद ने दिया आश्वासन, कहा-आगामी मॉनसून सत्र में सदन में उठाएंगे मुद्दा

Jamshedpur : घोर वित्तीय संकट झेल रहा सहारा इंडिया परिवार जमशेदपुर परिक्षेत्र के अधिकारियों एवं फील्ड के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को सांसद विद्युत वरण महतो से मुलाकात कर अपनी परेशानियों से अवगत कराया और एक ज्ञापन सौंपा. जमशेदपुर एवं टाटानगर रीजन के सहारा इंडिया परिवार के अधिकारियों एवं फील्ड के कार्यकर्ताओं का एक प्रतिनिधिमंडल गुरुवार को जमशेदपुर सांसद विद्युत वरण महतो से मुलाकात कर एक ज्ञापन सौंपा.

सौंपे गए ज्ञापन के माध्यम से सहारा के अधिकारियों ने पिछले 11 सालों से घोर वित्तीय संकट का सामना करने और इस दौरान सम्मानित निवेशकों एवं कार्यकर्ताओं को हो रहे परेशानियों से सांसद को अवगत कराया. सहारा के अधिकारियों ने बताया कि सहारा-सेबी विवाद के कारण संस्थान की सारी गतिविधियों पर रोक लग गई है. सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर समूह ने सहारा-सेबी अकाउंट में 24 हजार करोड़ रुपए जमा करा दिया गया है. मगर सेबी अबतक निवेशकों का भुगतान नहीं कर रही है, जिससे निवेशकों का भुगतान प्रभावित हो रहा है. आए दिन निवेशक ऑफिस और फील्ड के कार्यकर्ताओं के बीच दूरियां बढ़ रही हैं जिससे स्थितियां भयावह होती जा रही है. सहारा के अधिकारियों ने सांसद से उक्त प्रकरण को सदन में उठाने और भारत सरकार से इस मामले पर पहल करने की मांग की है.

वहीं सांसद विद्युत वरण महतो ने मामले को गंभीर बताया और कहा आगामी मॉनसून सत्र में सदन के पटल पर सहारा का मुद्दा उठेगा. उन्होंने यह भी कहा कि सहारा-सेबी विवाद को लेकर गठित स्टैंडिंग कमेटी को भी इससे अवगत कराते हुए निवेशकों एवं कार्यकर्ताओं की परेशानियों से अवगत कराया जाएगा. सांसद ने कहा देश के प्रधानमंत्री ऐसे मामलों को लेकर गंभीर हैं, और जल्द ही इस मामले पर भी अच्छी पहल की जाएगी. उन्होंने पीड़ित निवेशकों को न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें : पलामू में जिला पार्षद प्रत्याशी ने उड़ायी आचार संहिता की धज्जियां, सरकारी स्कूल की दीवार पर लगाया पोस्टर

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

Related Articles

Back to top button