न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

साजन हत्याकांड : मोबाइल में पिक्चर देखने के दौरान कहासुनी में हुई थी साजन की हत्या

आठ दिनों के बाद आरोपी आया पकड़ में

90

Garhwa : पलामू जिला से सटे गढ़वा जिला के वंशीधर नगर (नगर उंटारी) थाना क्षेत्र में पिछले 12 जनवरी को हुई साजन हत्याकांड की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है. फिल्म देखने के दौरान हुई कहासुनी में साजन की हत्या कर दी गयी थी. उसका शव 13 जनवरी की सुबह कुशडंड गांव से बरामद किया गया था. पुलिस ने हत्या के आरोपी कुशडंड गांव निवासी विनोद राम के पुत्र शिवपूजन राम को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने खून लगा शिवपूजन का सर्ट एवं पैंट को भी बरामद कर लिया है.

रविवार को एसडीपीओ नीरज कुमार ने बताया कि गत 13 जनवरी को कुशडंड गांव के निकट जंगल से एक युवक का शव बरामद किया गया था. पुलिस इंस्पेक्टर सत्येंद्र नारायण सिंह एवं थाना प्रभारी निरंजन कुमार के द्वारा पूरे मामले की जांच के बाद हत्या करने के आरोपी को रविवार की सुबह में उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया.

उन्होंने बताया कि साजन कुमार की हत्या शिवपूजन राम ने मोबाइल पर पिक्चर देखने को लेकर उत्पन्न विवाद में की थी. गत 12 जनवरी की शाम में साजन अपने घर के पास में ही हो रहे फुटबॉल मैच को देखने गया था. खेल देखने के दौरान शिवपूजन राम उसके के साथ बैठकर मोबाइल में पिक्चर देख रहा था. एसडीपीओ ने बताया कि घटना के चार माह पूर्व साजन के पिता के द्वारा शिवपूजन की भाभी तथा उसके पिता को गाली ग्लौज करते हुए मारपीट की गयी थी. जिसका खुन्नस शिवपूजन को था. शिवपूजन काफी गुस्सैल भी है.

शिवपूजन ने पत्थर से मारकर साजन की हत्या कर दी

साजन के मोबाइल में पिक्चर देखने के दौरान शिवपूजन ने साजन से दूसरा पिक्चर लगाने को कहा था. नहीं लगाने पर बात बढ़ गयी और दोनों के बीच लड़ाई होने लगी. लड़ाई बढ़ने पर साजन भागने लगा. इसी बीच शिवपूजन ने उसपर पत्थर से प्रहार कर दिया. जिससे वह गिर गया. अधमरा देख शिवपूजन ने पत्थर से मारकर साजन की हत्या कर दी. उन्होंने बताया कि हत्या करने के बाद शिवपूजन अपने घर चला गया और सुबह में गढ़वा भाग गया था. प्रेसवार्ता में पुलिस इंस्पेक्टर सत्येंद्र नारायण सिंह एवं थाना प्रभारी निरंजन कुमार मौजूद थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: