न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रुपये ने डालर के खिलाफ लगाई पांच वर्षों की सबसे ऊंची कूद,112 पैसे सुधार

72

Mumbai : कच्चे तेल की नरमी से भारत के व्यापार घाटा को लेकर चिंता कम होने के बीच रुपया मंगलवार को डालर के मुकाबले 112 पैसे के जोरदार उछाल के साथ 70.44 डॉलर पर बंद हुआ. रुपये की विनिमय दर में पांच साल से भी अधिक समय में यह एक दिन का सबसे बड़ा सुधार है.
निर्यातकों और बैंकों द्वारा डॉलर की सतत बिकवाली के साथ साथ अमेरिकी फेडरल रिजर्व की नीतिगत बैठक से पहले वैश्विक स्तर पर प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजोर होने से रुपये को बल मिला. फेडरल रिजर्व की ब्याज तय करने वाली समिति की बैठक बुधवार को हो रही है और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने उससे ब्याज न बढ़ाने की अपील की है. अंतरराष्ट्रीय तेल बाजारम में मानक ब्रेंट कच्चा तेल 2.26 प्रतिशत गिर कर 14 माह के निम्न स्तर 58.26 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर चल रहा था.

अन्तरबैंकिंग विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपये की विनिमय दर प्रति डालर 71.34 पर मजबूत खुली. कारोबार के अंत में रुपया सोमवार के बंद भाव के मुकाबले 112 पैसे के भारी उछाल के साथ 70.44 पर बंद हुआ. रुपया सोमवार को 34 पैसे मजबूत हो कर 71.56 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था. रुपये में 112 अंकों का उछाल 19 सितंबर, 2013 के बाद एक दिन की सबसे बड़ी तेजी दर्शाता है. उस दिन इसमें 161 पैसे का उछाल आया था. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स आरंभिक गिरावट से उबर कर 77 अंक लाभ के साथ 36,347 अंक पर बंद हुआ.

 

Related Posts

सरकारी बैंकों का होगा निजीकरण? मोदी सरकार नीति आयोग के प्रस्ताव पर कर रही विचार !  

पंजाब एंड सिंध बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र और इंडियन ओवरसीज बैंक के प्राइवेटाइजेशन से इस प्रक्रिया की शुरुआत हो सकती है.

hotlips top

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like