Bihar

‘बिहारी गुंडा’ वाले बयान पर बवाल, पक्ष और विपक्ष ने कहा- हमारे यहां के लोग सहयोग ना करें तो दूसरे राज्य भुखमरी के कगार पर आ जाएंगे

Patna: TMC और DMK के नेताओं के ‘बिहारी गुंडा’ वाले बयान पर गुरुवार को सियासी बवाल मच गया. बिहार में पक्ष और विपक्ष के नेता इसके खिलाफ एक साथ नजर आए. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस मुद्दे पर लगातार बोलते रहे इस बार बीजेपी जेडीयू और आरजेडी के प्रवक्ताओं ने TMC और DMK नेताओं को करारा जवाब दिया है.

भाजपा सांसद निशिकांत दुबे के मुताबिक, पश्चिम बंगाल की TMC से सांसद महुआ मोइत्रा ने बुधवार को एक बैठक में बिहारी नेताओं को बिहारी गुंडा कह दिया. इसको लेकर बीजेपी के सांसद निशिकांत दुबे ने लोकसभा अध्यक्ष से इसकी शिकायत भी की.

वहीं दूसरी तरफ तमिलनाडु के मंत्री और डीएमके नेता केएन नेहरू ने कहा कि बिहारियों के पास ज्यादा दिमाग नहीं होता. केएन नेहरू ने लालू यादव के रेल मंत्री काल पर हमला करते हुए कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री लालू प्रसाद यादव के समय में बिहारियों ने कई नौकरियां छीन ली जो तमिलनाडु के लोगों को मिलनी चाहिए.

advt

इसे भी पढ़ें :पेगासस व बढ़ती महंगाई के खिलाफ कांग्रेस का विधानसभा मार्च, प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

TMC और DMK के बयान के बाद जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा कि टीएमसी के नेता राजनीति में लंपट संस्कृति से अपनी राजनीति चमका रहे हैं. बिहार ज्ञान की भूमि रही है. चंद्रगुप्त और चाणक्य की भूमि रही है. हमारी अस्मिता को चुनौती देने की ताकत किसी को नहीं है. लोकतंत्र के मंदिर में भाषाई लंपट संस्कृति से संवाद करना राजनीति की निकृष्टता है.

वहीं नेहरू पर हमला करते हुए नीरज कुमार ने कहा कि पहले तमिलनाडु और बिहार के अधिकारियों में तुलना कर लें, कौन ज्यादा बेहतर है. बिहार के युवा अपनी प्रतिभा के बल पर कहीं भी नौकरी लेते हैं. देश में कितने आईएएस और आईपीएस हैं, इसकी तुलना भी तमिलनाडु कर लें. बिहारी मेधा को कोई चुनौती नहीं दे सकता.

वहीं आरजेडी के मुख्य प्रवक्ता भाई बिरेंद्र ने कहा कि आज भारत की कल्पना की जा रही है तो उसमें बिहार है. यदि बिहार नहीं तो भारत नहीं. लोगों को बिहार का सम्मान करना चाहिए और करना ही होगा.

इसे भी पढ़ें :काफी समय बाद संसद पहुंचे लालू प्रसाद, पीएम मोदी और नीतीश सरकार पर जम कर बोला हमला

बिहार का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. बिहार के लोग यदि बिहार में ही रह कर अपना काम करने लगेंगे तो दूसरे राज्य के लोग भुखमरी की कगार पर आ जाएंगे.

वहीं भाई वीरेंद्र ने कहा कि लालू यादव ने रेलवे में बेहतर काम किया था. उन्होंने घाटे में चल रहे रेलवे को मुनाफे में पहुंचाया था. लालू यादव ने रेल मंत्री रहते हुए हर राज्य के लिए काम किया था.

वही इन नेताओं के बयान पर बीजेपी ने कड़ा ऐतराज जताया है. बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता गुरुप्रकाश ने कहा कि टीएमसी और डीएमके जैसी पार्टियां अपनी राजनीति को इसी तरह से जिंदा रखती हैं.

इसे भी पढ़ें :CORONA ALERT : गढ़वा के रमुना में कोरोना विस्फोट, एक साथ 14 लोग कोरोना संक्रमित

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: