Lead NewsNational

छत्तीसगढ़ कांग्रेस में घमासान: अपनी सरकार के विरोध में मंत्री सिंहदेव का वॉकआउट, निशाने पर CM बघेल

कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह के काफिले पर हुए हमले का मामला विस में गूंजा

Raipur : छत्तीसगढ़ के कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह के काफिले पर हुए हमले की गूंज मंगलवार को विधानसभा में सुनाई दी. इस मामले को लेकर सदन में जोरदार हंगामा हुआ. उसके बाद मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री आमने सामने आ गए. अपनी ही सरकार के विरोध में स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव ने सदन का बहिष्कार कर दिया.

टी एस सिंहदेव ने कहा कि रामानुजगंज से कांग्रेस विधायक पर हुए हमले पर जबतक सरकार जांच का आदेश नहीं देती या बयान नहीं देती तब तक वह खुद को इस प्रतिष्ठित सदन का हिस्सा नहीं बनेंगे.

इसे भी पढ़ें :Ranchi: अपर बाजार में बीकेबी माल और द्वारिकाधीश समेत 12 दुकानें टूटेंगी

advt

कांग्रेस विधायक के काफिले पर हुआ था हमला

जानकारी हो कि 23 जुलाई की देर रात कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह के काफिले पर हमला हुआ था. कुछ युवकों ने उनकी गाड़ी रोककर तोड़फोड़ की थी. हमले में स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव के रिश्तेदार का नाम सामने आया था.

इस मामले में सरगुजा पुलिस तीन युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. वहीं विधायक ने आरोप लगाया था कि पार्टी का एक गुट उनसे नाराज है, जिसकी वजह से यह हमला कराया गया.

इसे भी पढ़ें :Breaking News : क्रुणाल पांडया Corona पॉजिटिव, भारत औऱ श्रीलंका के बीच दूसरा टी-20 मैच स्थगित

विधायक बृहस्पति सिंह का आरोप

विधायक बृहस्पति सिंह ने कहा था कि बीते दिनों उन्होंने बघेल की प्रशंसा की थी और कहा था कि वह मुख्यमंत्री बने रहेंगे. यह बयान स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव को पसंद नहीं आया और बाद में उनके काफिले पर हमला किया गया.

कांग्रेस विधायक ने यह भी आरोप लगाया था कि स्वास्थ्य मंत्री से उनकी जान को खतरा है. आरोपों को लेकर सिंहदेव ने कहा था कि कुछ लोग उनकी छवि खराब करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन उनके क्षेत्र और राज्य के लोग उन्हें अच्छी तरह से जानते हैं. वह इस पर कोई बयान नहीं देंगे.

इसे भी पढ़ें :11 एमवीआइ का तबादला, अजय कुमार को रांची व बोकारो का जिम्मा, देखें सूची…

पुनिया बोले- यह कोई बड़ी बात नहीं


वहीं छत्तीसगढ़ कांग्रेस में मचे घमासान के बीच राज्य के कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा कि यह बहुत छोटी बात है. विधायक बृहस्पति सिंह ने दावा किया कि टी एस सिंहदेव उन्हें मारना चाहते थे, लेकिन उन्होंने आईजी, गृहमंत्री या फिर मुख्यमंत्री के सामने इसकी शिकायत नहीं की. भावनाओं में बहकर उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री पर यह आरोप लगाया होगा.

टीएस सिंहदेव ने कार्रवाई की मांग की थी

घटना पर टी एस सिंहदेव ने पुलिस से कानून के तहत कार्रवाई करने की मांग की थी. सिंहदेव ने कहा था कि जिन लोगों ने इस घटना को अंजाम दिया है पुलिस उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करें.

इसे भी पढ़ें :31 जुलाई को जैक जारी कर सकता है मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: