Education & Career

#RU में ऑनलाइन होगी पीजी सेमेस्टर-4 और यूजी सेमेस्टर-6 की मिड सेम परीक्षा

Ranchi : रांची विवि में वीसी डॉ रमेश कुमार पांडेय की अध्यक्षता में कोविड-19 सेल की अतिआवश्यक आपातकालीन बैठक हुई. इसमें परीक्षा लेने, रिजल्ट प्रकाशन और नामांकन लेने की प्रक्रिया पर निर्णय लिया गया.

 

advt

इस बैठक में निर्णय लेते हुए कोविड-19 सेल के अधिकारियों ने बताया कि स्नातक सेमेस्टर फिफ्थ की प्रैक्टिकल परीक्षा सहित पीजी सेमेस्टर चार व यूजी सेमेस्टर छह की मिड सेम की परीक्षा ऑनलाइन होगी.

वहीं वीसी ने सदस्यों को ऑनलाइन एग्जामिनेशन से जुड़ी हर संभावनाओं पर विचार कर एक सप्ताह में रिपोर्ट देने को कहा.

इस आपातकालीन बैठक में प्रोवीसी डॉ. कामिनी कुमार, डीएसडब्ल्यू डॉ. पीके वर्मा, रजिस्ट्रार डॉ. अमर कुमार चौधरी, परीक्षा नियंत्रक डॉ. राजेश कुमार, एमपीईएच के निदेशक प्रो. अशोक कुमार सिंह,  वोकेशनल समन्वयक डॉ. मुकुंदचंद मेहता सहित सभी विभागों के प्रमुख शामिल थे.

इसे भी पढ़ें –#RIMS: रेडियोलॉजी विभाग के एचओडी ने निदेशक को भेजा लीगल नोटिस, 40 लाख क्षतिपूर्ति की मांग की

 

19 मार्च से स्थगित हैं सभी परीक्षाएं

रांची विवि में कोरोना के खतरे को देखते हुए सभी परीक्षाओं को 19 मार्च से स्थगित कर दिया गया था. उस दौरान फिफ्थ सेमेस्टर की परीक्षा चल रही थी. जबकि ऑनर्स की सभी परीक्षाएं पूरी हो गयी थी.

कुछ विषयों के प्रैक्टिकल एग्जाम बाकी रह गये थे. अब बिना प्रैक्टिकल एग्जाम के रिजल्ट जारी नहीं हो सकता है. इसलिए विवि प्रशासन ऑनलाइन एग्जाम की तैयारी कर रहा है.

ऑनर्स के थ्योरी पेपर की जांच विवि शिक्षक अपने घर ले जाकर जांच कर रहे हैं. रांची केंद्रों की कॉपियों का मूल्यांकन हो भी चुका है. केवल रांची से बाहर के केंद्र की कॉपियों की जांच बची है.

लॉक डाउन के चलते उत्तर पुस्तिकाएं रांची नहीं आ सकी थीं. लोहरदगा, खूंटी, सिल्ली, बुंडू में परीक्षा केंद्रों पर उत्तर पुस्तिकाएं फंसी हुई थीं. विवि प्रशासन ने इसे रांची मंगवा लिया है. अब इसे शिक्षक अपने घर पर जांच रहे हैं.

इसे भी पढ़ें – #CoronaUpdates : रांची और गढ़वा से मिले एक-एक नये कोरोना पॉजिटिव मरीज, राज्य का आंकड़ा पहुंचा 217

रांची विवि की वेबसाइट पर मिलेंगे हर पेपर के 90 प्रश्न

लॉक डाउन के दौरान ही आरयू प्रशासन ने शिक्षकों से मॉडल प्रश्न बनाकर परीक्षा नियंत्रक डॉ. राजेश कुमार को भेजने का निर्देश दिया था. प्रत्येक पेपर में 200-300 प्रश्न पत्र भी मिले हैं.

बैठक में सभी डीन से कहा गया कि वे विभागाध्यक्ष से क्वेश्चन बैंक बनवाने को कहें. प्रश्नों में 30 अति लघुउत्तरीय, 30 लघुत्तरीय और 30 प्रश्न दीर्घ उत्तरीय होंगे.

इस तरह प्रत्येक पेपर में 90 प्रश्न रांची विवि के वेबसाइट पर मिलेंगे. जिसका लाभ स्टूडेंट्स ले सकते हैं.

डॉ पीके वर्मा बने एडमिशन नोडल पदाधिकारी

इस वर्ष भी चांसलर पोर्टल से ही नामांकन लिया जायेगा. इसके लिए विवि नोडल पदाधिकारी डॉ पीके वर्मा को बनाया गया है. वहीं 22 विभागों और 14 अंगीभूत कॉलेजों में एक-एक नोडल पदाधिकारी नियुक्त होंगे.

साथ ही वोकेशनल कोर्स में प्रोजेक्ट वर्क को ऑनलाइन पूरा कराया जायेगा. इसके बाद इसका इवेल्यूशन भी ऑनलाइन ही होगा. यह सीवीएस समन्वयक की देखरेख में पूरा किया जायेगा.

लॉक डाउन के बाद पेंडिंग कोर्स के लिए स्पेशन क्लास कराया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – #Ranchi : हिंदपीढ़ी में प्रशासन और लोगों के बीच झड़प, स्थिति नियंत्रण में

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: