National

आरएसएस जहर है इसका स्वाद चखने की जरूरत नहीं है : मल्लिकार्जुन खड़गे

विज्ञापन

NewDelhi : आरएसएस जहर है इसका स्वाद चखने की जरूरत नहीं है. यह बात कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कही. इस क्रम में खड़गे ने कहा कि राहुल गांधी या पार्टी के किसी अन्य नेता के द्वारा आरएसएस के कार्यक्रम में भाग लेने का कोई सवाल ही नहीं है.  खड़गे सितंबर माह में आरएसएस की व्याख्यान श्रृंखला में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल को कथित तौर पर आमंत्रित करने को लेकर पूछे जाने का जवाब दे रहे थे. कहा कि पहले निमंत्रण तो आने दें. निमंत्रण चुनावों को देखते हुए है.बता दें कि खड़गे ने लोकसभा चुनाव से पूर्व पार्टी की महाराष्ट्र और मुंबई इकाई के कार्यकर्ताओं से मिले.

इसे भी पढ़ें- भाजपा के पूर्व सांसद अजय मारू ने फर्जी तरीके से खरीदी जमीन : विधानसभा उपसमिति

कांग्रेस आरएसएस के साथ वैचारिक लड़ाई लड़ रही है

खड़गे ने पत्रकारों से बात की. खड़गे ने कहा कि कांग्रेस आरएसएस के साथ वैचारिक लड़ाई लड़ रही है. कहा कि पार्टी ने धर्मनिरपेक्ष ताकतों को मजबूत करने और भाजपा को सत्ता से दूर रखने के लिए कर्नाटक में मुख्यमंत्री पद भी छोड़ दिया.  इसलिएगांधी या कांग्रेस के किसी अन्य नेता के आरएसएस मुख्यालय जाने का कोई सवाल ही नहीं उठता. इस क्रम में कांग्रेस नेता ने आरएसएस की विचारधारा को देश के लिए और दलितों और अन्य उत्पीड़ित वर्गों के लिए जहर करार दिया.

खड़गे ने कहा, अगर राहुल साहब मुझसे आरएसएस कार्यक्रम में जाने के बारे में पूछते हैं, तो मैं उनसे कहूंगा कि वहां जाने का कोई सवाल ही नहीं है. इसके अलावा खड़गे ने भाजपा नीत केंद्र और महाराष्ट्र सरकार पर मानवाधिकारों को कुचलने और अघोषित आपातकाल लगाने का आरोप लगाया.

इसे भी पढ़ेंः लालू यादव ने किया सरेंडर- पहले होटवार जेल, फिर भेजे जाएंगे रिम्स

इसे भी पढ़ें- सीवरेज-ड्रेनेज परियोजना पर सांसद महेश पोद्दार ने उठाया सवाल, की जांच की मांग

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: