JharkhandNEWSRanchiSahibganj

रूपा तिर्की मौत मामलाः सीबीआई की फॉरेंसिक टीम पहुंची साहिबगंज, खंगाला जायेगा रूपा का कमरा

Sahibganj:  झारखंड की बहुचर्चित रूपा तिर्की की मौत की गुत्थी सुलझाने के लिए सीबीआई की फोरेंसिक टीम आज साहेबगंज पहुंची है. CBI की फोरेंसिक टीम दिल्ली से ट्रेन से पहुंची है. टीम में कुल 8 लोग है. फॉरेंसिक टीम के पहुंचने के बाद आज पुलिस लाइन स्थित सील किए गए सरकारी क्वार्टर को खोला जा सकता है. जहां से फिंगर प्रिंट और फुट प्रिंट लेकर जांच को आगे बढ़ाए जाने की संभावना है. हालांकि, फॉरेंसिक टीम के लिए इसे चुनौती पूर्ण माना जा रहा है. इस बीच कई बार पुलिस टीम और न्यायिक जांच टीम क्वार्टर को खोल चुकी है. घटना के इतने दिनों के बाद सबूतों का मिलना थोड़ा मुश्किल माना जा रहा है.

इसे भी पढ़ेंःJharkhand Corona Update: छह जिलों में 10 संक्रमित मिले, सक्रिय मरीजों की संख्या 100 के करीब

CBI जांच में पोस्टमार्टम करने वाली टीम पर सबसे अधिक सवालिया निशान लगा हुआ है. सवाल उठाया जा रहा है कि महिला की पोस्टमार्टम करने के लिए डॉक्टरों की टीम में महिला चिकित्सक को क्यों नहीं रखा गया? इतना ही नहीं, घटना- दुर्घटना के मामले में मृतक का बिसरा अस्पताल में सुरक्षित और संरक्षित रखा जाता है, ताकि जरूरत पड़ने पर इसका इस्तेमाल किया जा सके. लेकिन, इस मामले में बिसरा को सुरक्षित रखना मुनासिब नहीं समझा गया. स्वास्थ्य विभाग की यह चूक सवालिया घेरे में है.

advt

इसे भी पढ़ेंःगुजरात मंत्रिमंडल विस्तारः रुपाणी व नितिन पटेल को बाहर का रास्ता दिखा 20 नये चेहरों को मिल सकती है जगह, डेढ़ बजे शपथग्रहण

मालूम हो कि 3 मई को संदिग्ध परिस्थिति में मौत हुई थी. उनका शव साहिबगंज स्थित उनके सरकारी क्वार्टर में फंदे से लटकता मिला था. रूपा तिर्की रांची के रातू थाना अंतर्गत काठीटांड की रहने वाली थी. वह 2018 बैच के अवर निरीक्षक के रूप में बहाल हुई थी.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: