JharkhandLead NewsRanchi

सौर ऊर्जा में महिलाओं की बढ़ेगी भूमिका, 4 लाख सोलर पंप वितरण का लक्ष्य

ज्रेडा की ओर से महिलाओं के लिए सौर ऊर्जा पंप कार्यक्रम का आयोजन

Ranchi : कृषि कार्यों के लिए जरूरी है कि पारंपरिक ऊर्जा को सौर ऊर्जा में बदला जाये. सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा दिया जायें. ऐसे में जरूरी है कि महिलाओं को योजनाओं से जोड़ा जाये. मंगलवार को झारखंड रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी (ज्रेडा) की ओर से कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इसका विषय महिलाओं के लिए सौर ऊर्जा पंप की दिशा में कदम रखा गया.

इसे भी पढ़ें : औरंगाबाद में स्कूल से कोचिंग के लिए निकली तीन छात्राएं लापता

70 फीसदी भागीदारी महिलाओं की

ram janam hospital
Catalyst IAS

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

इस दौरान ज्रेडा निदेशक केके वर्मा ने कहा कि सौर ऊर्जा में आर्थिक और पर्यावरणीय लाभ ले सकते हैं. आने वाले समय जरेडा की ओर से चार लाख सोलर वाटर पंप लगाने की योजना है. वर्मा ने कहा कि एक आंकड़े के मुताबिक वर्तमान समय में लगभग सात करोड़ महिलाएं कृषि क्षेत्र से जुड़ी हैं. कुल खाद्यान्न उत्पादन में इनकी 70 फीसदी भागीदारी है. जबकि संसाधनों की पहुंच मात्र 13 फीसदी है. अगर महिलाओं को भी संसाधन मिले और वे लाभ लें, तो महिलाएं इस क्षेत्र में अग्रणी होंगी. वर्मा ने बताया कि सोलर पंप वितरण योजना में झारखंड देश का पहला राज्य है जहां सब्सिडी सबसे अधिक है.

इसे भी पढ़ें : BIT MESRA : पटना ऑफ कैंपस से मास्टर्स और देवघर कैंपस से बैचलर कोर्स में एडमिशन जारी

महिलाएं आगे बढ़ेंगी

केके वर्मा ने कहा कि कृषि क्षेत्र में महिलाओं की भूमिका 70 से 60 फीसदी है. ऐसे सोलर पंप जैसी सरकारी सुविधाओं का लाभ लेकर महिलाएं आगे बढ़ सकती हैं. इस दौरान जानकारी दी गयी कि स्विऑन फाउंडेशन की ओर से सोलर पंप लगाने के लिए सर्वे किया गया. जिससे जानकारी हुई कि संथाल परगना के 80 महिलाओं ने पंप का लाभ लिया है. जबकि अभी तक सात सौ आवेदन सिर्फ महिलाओं के हैं. अधिकारियों ने बताया कि सोलर पंप के जरिये स्वच्छ ऊर्जा को बढ़ावा देने है. जिससे डिजल, कोयला से बनने वाली बिजली का खपत कम से कम हो. इस दौरान डीएफआइडी के सलाहकार उदित माथुर, नाबार्ड के गोपा कुमार नायक समेत अन्य मौजूद रहे.

इसे भी पढ़ें : मझगांव के बच्चों को शिक्षा के लिए बाहर जाने की जरुरत नहीं : निरल पूर्ति

Related Articles

Back to top button