न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ईडी की छापामारी पर बोले राबर्ट वाड्रा, भाजपा डराने की राजनीति कर रही है

मैं इस देश का नागरिक राबर्ट वाड्रा हूं, मैं आप लोगों से कुछ बात करना चाहता हूं कि किस तरह से पिछले साढ़े चार साल से भाजपा सरकार ने हमें और हमारे परिवार को परेशान कर रखा है.

10

NewDelhi :  रॉबर्ट वाड्रा और उनके करीबियों के यहां ईडी की छापेमारी को लेकर वाड्रा ने भ्राजपा पर पलटवार किया है. वाड्रा का कहना है कि भाजपा डराने और खौफ पैदा करने के लिए छापेमारी करवा रही है. बता दें कि तहलका मैगजीन को दिये अपने इंटरव्यू में वाड्रा ने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि मैं इस देश का नागरिक राबर्ट वाड्रा हूं, मैं आप लोगों से कुछ बात करना चाहता हूं कि किस तरह से पिछले साढ़े चार साल से भाजपा सरकार ने हमें और हमारे परिवार को परेशान कर रखा है.  मुझे, मेरी पत्नी और मेरे बच्चों को दिमागी तौर पर हताश कर रखा है, मैं आप लोगों से कहना चाहता हूं कि भाजपा सरकार सत्ता का दुरूपयोग कर लगातार मुझे परेशान कर रही है.

राजनीतिक परिवार का दामाद मेरा गुनाह

वाड्रा ने कहा, मेरा गुनाह सिर्फ इतना सा है कि मैं एक राजनीतिक परिवार का दामाद हूं और इसमें मेरा क्या दोष है ? यह हकीकत है मेरे देश के लोगों.  भाजपा को अगर एक भी सुबूत मेरे खिलाफ मिल जाता तो वह  मुझे काल कोठरी में भेज देती. रक्षा सौदा मामले में यह दावा किया जा रहा है कि वाड्रा के संबंध हथियार कारोबारी संजय भंडारी से है. ईडी ने कहा है कि उसे पुख्ता जानकारी मिली है कि डिफेंस डील में मिलने वाली रिश्वत से विदेशों में प्रापर्टी खरीदी गयी थी. ईडी ने अधिकारिक तौर पर कहा कि इसी सिलसिले में रॉबर्ट वाड्रा के सहयोगियों के यहां छापेमारी की गयी औऱ बड़े पैमाने पर दस्तावेज और इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जब्त किये गये. ईडी ने रॉबर्ट के करीबी जगदीश शर्मा और मनोज को भी पूछताछ के लिए बुलाया.

भाजपा प्रतिशोध की राजनीति पर उतर गयी है

कांग्रेस ने वाड्रा और उनके सहयोगियों पर छापेमारी को साजिश करार दिया है. छापेमारी के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि पांच राज्यों में अपनी निश्चित हार से घबराई भाजपा अब प्रतिशोध की राजनीति पर उतर आयी है. कहा कि नियम कानून और संविधान को ताक पर रखकर मोदी सरकार अपनी हिटलरशाही पर उतारु है.  ईडी, सीबीआई और आयकर विभाग जैसी संस्थाओं का इस प्रकार का राजनीतिक दुरुपयोग भारत के इतिहास में इससे पूर्व कभी नहीं देखा गया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: