न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गड्ढों में तब्दील हुईं राजधानी रांची की सड़कें, राहगीरों को हो रही परेशानी

2,331

Ranchi : कहने को तो रांची झारखंड की राजधानी है, लेकिन यहां की सड़कें इस दर्जे को सपोर्ट करती नहीं दिखती हैं. राजधानी बनने के बाद यहां के लोगों को लगा कि अब यह शहर साफ, स्वच्छ और सुंदर दिखेगा. राज्य गठन के 17 साल में कई सरकारें बनीं. शपथ लेते ही सभी ने बिजली, पानी और सड़क की व्यवस्था को दुरुस्त करने की बातें कहीं. इसके बावजूद शहर की स्थिति नहीं बदली जा सकी. हालांकि, इसी बीच रांची को स्मार्ट सिटी बनाने की बात भी चली है, लेकिन यहां पहले से बनीं सड़कों का हाल देख कोई यह नहीं कह सकता कि ये राजधानी रांची की सड़कें हैं. न्यूज विंग ने आज शहर के कई गली-मुहल्लों की सड़कों का जायजा लिया. आप भी देखिये, जानिये राजधानी के ‘विकास’ का हाल.

इसे भी पढ़ें- रांची में कमजोर पड़ा मॉनसून, बढ़ जायेगी पानी की किल्लत

तिवारी स्ट्रीट

तिवारी स्ट्रीट
तिवारी स्ट्रीट में सड़क का हाल.

यह है मेन रोड से सटा तिवारी स्ट्रीट. यहां से सैकड़ों गाड़ियां प्रतिदिन गुजरती हैं, लेकिन सड़क पर बने गड्ढे आने-जानेवाले राहगीरों के लिए परेशानी का एक बहुत बड़ा कारण हैं. बरसात के शुरू होते ही सड़कों पर पानी भर जाता है. इससे राहगीरों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है. अब तक इस गड्ढे पर न ही वार्ड पार्षद का ध्यान गया है और न ही नगर विकास मंत्री का. लिहाजा लोगों को मजबूरन इस बदहाल सड़क से गुजरना पड़ता है.

फतेहउल्लाह रोड

फतेहउल्लाह रोड
फतेहउल्लाह रोड में सड़क का हाल.

मेन रोड को विक्रांत चौक से बहू बाजार के रास्ते से जोड़नेवाली इस सड़क पर दर्जनों गड्ढे बने हुए हैं. स्थानीय निवासी शमीम बताते हैं कि कई बार बदहाल सड़क को लेकर वार्ड पार्षद से भी शिकायत की, लेकिन सड़क की स्थिति आप सबके सामने है. चुनाव से पूर्व सड़क को बनाने का आश्वासन दिया गया, लेकिन नतीजा आने के बाद वार्ड पार्षद अपने इलाके के लोगों को भूल गये.

इसे भी पढ़ें- सिमडेगाः जहरीली हड़िया पीने से छह लोगों की मौत, पांच की हालत गंभीर

लोअर बाजार थाना रोड

लोअर बाजार थाना रोड
लोअर बाजार थाना रोड पर पाइपलाइन से हो रहा पानी का रिसाव.

कर्बला चौक से मिशन चौक जानेवाले रास्ते में पड़ता है लोअर बाजार थाना रोड. मुहल्ले की सड़क पर पहुंचते ही नगर निगम द्वारा पानी की सप्लाई के लिए लगायी गयी पाइपलाइन से पानी का रिसाव हो रहा है. इस वजह से सड़क गड्ढे में तब्दील होने के कगार पर है.

धुमसा टोली चुटिया

धुमसा टोली चुटिया
धुमसा टोली इस सड़क पर बहता है घरों का गंदा पानी.

धुमसा टोली चुटिया स्थित तालाब के निकट अपार्टमेंट का गंदा पानी सड़क पर बहाया जा रहा है. इससे सड़क पर गड्ढे बनने लगे हैं. सड़क से पार होनेवाले वाहनों के अलावा राहगीरों को भी गंदे पानी से होकर गुजरना पड़ता है.

मकचुंद टोली, चुटिया

मकचुंद टोली, चुटिया
मकचुंद टोली, चुटिया ऐसा है सड़क का हाल.

चुटिया मकचुंद टोली की पीसीसी सड़क का हाल भी वही है, जो अब तक हमने अन्य सड़कों का देखा. सड़क पर बने गड्ढे राहगीरों के लिए मुसीबतों का कारण बन गये हैं. स्थानीय लोग बताते हैं कि रात के समय इस सड़क पर कई बार दुर्घटना हो चुकी है, लेकिन सड़क की मरम्मत को लेकर अब तक कोई पहल नहीं की गयी है.

इसे भी पढ़ें- झारखंड के किसान को खेती के लिए विश्वस्तरीय एक्सपोजर मिले : रघुवर दास

प्रगति पथ चुटिया

प्रगति पथ चुटिया
प्रगति पथ, चुटिया का हाल.

कहने को तो नाम प्रगति पथ है, लेकिन सड़कों का हाल देखकर ऐसा बिल्कुल ही नहीं प्रतीत होता है कि यह मुहल्ला प्रगति के पथ पर अग्रसर है. बदहाल सड़क लोगों के लिए परेशानी का सबसे बड़ा कारण है. बरसात के दिनों में सड़क पर पानी भर जाता है, जिससे आने-जानेवाले लोगों को समस्या का सामना करना पड़ता है.

लोअर चुटिया रेलवे क्रॉसिंग

लोअर चुटिया रेलवे क्रॉसिंग
लोअर चुटिया, रेलवे क्रॉसिंग की मुख्य सड़क का हाल.

घनी आबादीवाले क्षेत्र चुटिया की मुख्य सड़क पर भी जलजमाव की स्थिति बनी हुई है. स्थानीय लोगों का कहना है कि आसपास के मुहल्ले के लोगों के घरों की नाली का पानी सड़क पर बहाया जाता है. इस कारण सड़क समय से पहले ही खराब हो जाती है. निगम द्वारा न तो नाली की व्यवस्था की गयी है और न ही सड़क को बनाने की.

पंचशील नगर, पंडरा

पंचशील नगर, पंडरा
पंचशील नगर के इस पुल के पास सड़क पर बहता है नाली का पानी.

रातू रोड के पंडरा के पास पंचशील नगर है. यहां के निवासियों को हर साल बारिश के मौसम में परेशानी का सामना करना पड़ता है. पंचशील नगर स्थित पुल के पास की सड़क नदी बन जाती है, जिससे लोगो को आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ता है. यहां बारिश का पानी घर में घुस जाता है.

देवी मंडप रोड

देवी मंडप रोड
देवी मंडप रोड की जर्जर सड़क.

रातू रोड स्थित देवी मंडप रोड में एक बड़ी आबादी रहती है. इस रिहायशी इलाके की सड़क की स्थिति बहुत ही जर्जर है, जिससे लोग परेशान हैं. यह जर्जर सड़क दुर्घटना का कारण भी बन गयी है. आये दिन यहां बाइक सवार असंतुलित होकर दुर्घटनाग्रस्त हो जाते हैं.

चित्रगुप्त कॉलोनी

चित्रगुप्त कॉलोनी
चित्रगुप्त कॉलोनी की सड़क पर बहता है गंदा पानी.

रातू रोड स्थित चित्रगुप्त कॉलोनी इंद्रपुरी कॉलोनी के अंदर आती है. बारिश होने पर यहां की सड़क नदी में तब्दील हो जाती है. इससे यहां के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है और घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो जाता है.

इंद्रपुरी मुख्य मार्ग

इंद्रपुरी मुख्य मार्ग
इंद्रपुरी मुख्य मार्ग का ऐसा है हाल.

रातू रोड का सबसे बड़ा इलाका इंद्रपुरी है और इंद्रपुरी में एक बड़ी आबादी रहती है. यहां की सड़क की हालत बहुत ही खराब है. सड़क की बगल में नाली बनाने के नाम पर सड़क को खोद दिया गया है, जिससे सड़क की स्थिति बहुत ही खराब हो गयी है. इस सड़क के बीच में कई बड़े-बड़े गड्ढे हैं, जिसके चलते यहां से गुजरनेवाले लोगो को बहुत ही परेशानी का सामना करना पड़ता है और बाइक सवार आये दिन दुर्घटनाग्रस्त होते रहते हैं.

इसे भी पढ़ें- गिरिडीह में पार्क के नाम पर घोटाला, हो रही हैं घोर अनियमितताएं

संगम कोठी तालाब रोड

संगम कोठी तालाब
संगम कोठी मार्ग का हाल.

रातू रोड की संगम कोठी से तालाब आनेवाली सड़क की स्थिति बहुत ही खराब है. थोड़ी सी भी बारिश होने पर सड़क के बीचोंबीच पानी बहने लगता है. तालाब का पानी सड़क पर आ जाता है. इधर से गुजरनेवाले लोगों को कठिनाई का सामना करना पड़ता है और कई बार लोग गिरकर घायल भी हो जाते हैं.

मेट्रो गली

मेट्रोल गली
मेट्रो गली की सड़क का हाल.

रातू रोड स्थित मेट्रो गली में सीवरेज-ड्रेनेज सिस्टम के लिए गली को खोद दिया गया है. सड़क के बीचोंबीच गड्ढा खोद दिया गया है, जिससे लोगों को आने-जाने में परेशानी होती है और बारिश होने से कीचड़ पूरी सड़क पर हो आ जाता है, जिससे लोगों को चलने में भी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है.

इसे भी पढ़ें- जी हां, यह सड़क ही है, रातू रोड कब्रिस्तान के पास वाली सड़क, नदी न समझें

रातू रोड खादगढ़ा सब्जी मंडी रोड

रातू रोड खादगढ़ा सब्जी मंडी रोड
रातू रोड खादगढ़ा सब्जी मंडी रोड पर जलजमाव का दृश्य.

रातू रोड के खादगढ़ा सब्जी मंडी रोड पर बारिश के पानी का जमाव हो जाता है. सबसे बड़ी बात है कि इसी रोड पर सुखदेवनगर थाना भी है, लेकिन इसपर किसी का ध्यान नहीं जाता है और सड़क पर पानी भरने से लोगों को आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ता है.

रातू रोड कब्रिस्तान के पास

रातू रोड कब्रिस्तान
रातू रोड कब्रिस्तान के पास सड़क ने ले लिया है नदी का रूप.

रातू रोड कब्रिस्तान के पास बारिश होने से सड़क पर नदी बन जाती है और पानी सड़क से दो-तीन फीट ऊपर तक बहने लगता है. इससे लोगों को आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ता है. सरकार ने नालियां तो बनवा दी हैं, लेकिन ठेकेदार और इंजीनियर ने उसकी गुणवत्ता और भौगोलिक स्थिति पर कोई ध्यान नहीं दिया. नालियां बनाने में दोनों साइड की ऊंची जमीन को काटा नहीं गया, जिसके कारण नालियों से पानी आसानी से गुजर नहीं पाता और जाम हो जाता है. पानी बाहर निकलकर गिरने लगता है. सड़क की ऊंचाई भी कई स्थानों पर नालियों से नीची रह गयी है. इससे सड़क से नाली में पानी का बहाव आसानी से नहीं हो पाता है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: