न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आजादी के बाद पहली बार गांव में बनी पक्की सड़क, ग्रामीणों ने गुणवत्ता पर खड़े किये सवाल

133

Jaridih (बोकारो): प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनी सड़क की गुणवत्ता पर सवाल उठने लगे हैं. बोकारो जिले के जरीडीह प्रखंड में पीजीएसवाई के तहत बनी सड़क में गड़बड़ी की शिकायतें देखने को मिल रही हैं. यहां की भस्की पंचायत के राजस्व ग्राम रोरीया होते हुए टोला उरुमसुकुम तक 2.997 किमी तक सड़क बनायी गयी. गांव के सोमर मुण्डा ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार हमारे रोरीया उरुमसुकुम में पक्की सड़क बनी. लेकिन ठेकेदारों ने सही से नहीं बनाया, जिसके चलते सड़क टूट रही है.

mi banner add

टूट रही है सड़क

इस सड़क के निर्माण में गुणवत्ता के साथ-साथ लंबाई-चौड़ाई समेत कई तरह की अनियमितता की बातें भी कही जा रही हैं. वार्ड सदस्य बुधनी देवी ने कहा सड़क पर बहुत गड़बड़ काम हुआ है. मेरे कहने के बाद भी सड़क को सही से नहीं ढाला गया है. मात्र 2.5 इंच मोटा ढाला गया है, जो अब टूट रहा है. अब इसे सीमेंट-बालू देकर पोत दिया गया है.

ऊपर से काला कर दिया सड़क को

कहने का मतलब सड़क का निर्माण सही तरीके से नहीं हुआ है. देखने से ऐसा लगता है कि सीमेंट और बालू का मसाला बनाकर सिर्फ पोत दिया गया है. सड़क कालीकरण के नाम पर सिर्फ उपर से काला कर दिया गया है. सही से पीच नहीं किया गया है. सड़क उखड़कर उसके चिप्स दिखने लगे हैं. इस सड़क के ठेकेदार मोफित अंसारी हैं. उन्होंने पेटी में सड़क निर्माण श्यामल झा के द्वारा कराया है. वहीं, इस सड़क की गुणवत्ता जांचने की जवाबदेही JE ब्रज किशोर महतो की है.

सवालों के कटघरे में सड़क निर्माण

आजादी के बाद पहली बार गांव में बनी पक्की सड़क, ग्रामीणों ने गुणवत्ता पर खड़ा किया सवाल

आजादी के बाद पहली बार गांव को पक्की सड़क से जोड़ा गया. लोगों को उम्मीद थी कि सड़क के बन जाने से उनकी आने-जाने की समस्याएं अब दूर होंगी. अब सड़क की हालत देखकर लोग मायूस हैं. गांव के तिजनी देवी का कहना है कि सड़क जहां खेत से होकर पार होती है वहां दो पुलिया देना था. एक जगह पुलिया दिया गया है और दूसरी जगह मिट्टी भर दिया गया है. शम्भु मुण्डा कहते हैं खेत से होकर जहां सड़क पार होता है, वहां पर दोनों तरफ गार्डवाल देना था. पर नहीं दिया गया है. जल्दबाजी में सड़क बना दी गयी है. यह सही नहीं है. गांव के रथुराम महतो, महेश महतो, प्रदीप महतो, नन्दलाल महतो, अर्जुन महतो, मुरली महतो, डोमन मुण्डा, धनंजय मुण्डा, जगतु मुण्डा सहित कई लोगों ने सड़क निर्माण की गुणवत्ता पर सवाल खड़ा किये हैं.

वहीं इस सड़क को लेकर आम आदमी पार्टी के बोकारो जिला सचिव कमाल हसन ने कहा कि जिला प्रसासन सड़क निर्माण कार्य की जांच कराये. साथ ही कहा कि इस भ्रष्टाचार में लिप्त संवेदक और कार्य को देखने वाले कार्यपालक अभियंता पर कार्रवाई की जाए.

इसे भी पढ़ें – चार साल बीते तो रघुवर दास ने सुनाया फिर वही फरमान – अधिकारी गांव में गुजारें दो–दो दिन 

इसे भी पढ़ें – खरसावां गोलीकांड  : 71 साल बाद भी भरे नहीं जख्म, आजाद भारत का जलियांवाला कांड

 

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: