न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#RMC कुछ ही दिनों में इस शानदार बिल्डिंग में होगा शिफ्ट, जानें इसकी खासियतें

मार्च में मिल सकता है निगम को हैंडओवर, 31 करोड़ की लागत से बना है बिल्डिंग

743

Ranchi :  राजधानी स्थित कचहरी रोड में बन रहे रांची नगर निगम की शानदार बिल्डिंग बनकर तैयार हो चुकी है. हालांकि अभी बिल्डिंग में छिटफुट काम बाकी है, लेकिन बाहर के लोकेशन को देख कहा जा सकता है कि निगम का यह बिल्डिंग काफी शानदार होगा.

सूत्रों की मानें तो आठ फ्लोर में बनी निगम की इस बिल्डिंग की कुल लागत करीब 31 करोड़ रुपये है. बिल्डिंग को नगर विकास विभाग की एजेंसी झारखंड अरबन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (जुडको) द्वारा बनाया जा रहा है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

आठ फ्लोर की बिल्डिंग में मेयर, डिप्टी मेयर, नगर आयुक्त के साथ अन्य अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए कमरे की अलग–अलग व्यवस्था की गयी है. वहीं बिल्डिंग में वाहनों के पार्किंग के लिए भी पर्याप्त व्यवस्था की गयी है.

इसे भी पढ़ें : साइरस मिस्त्री पर NCLT कोलकाता के फैसले को नहीं मानेगा टाटा समूह, सुप्रीम कोर्ट में फैसले को दी चुनौती

प्रत्येक फ्लोर पर होगी सभी तरह की सुविधा

निगम के इस नये बिल्डिंग में राजधानी के लोगों के लिए कई तरह की सुविधा का ख्याल रखा गया है. बिल्डिंग के ग्राउंड फ्लोर पर ही जन सुविधा केंद्र का निर्माण हो रहा है, जहां लोग अपने टैक्स आदि जमा कर सकते हैं.

इसी फ्लोर पर लोगों की शिकायत निवारण केंद्र भी बनाया जा रहा है. इसके अलावा फ्लोर पर लोगों के बैठने की व्यवस्था, महिला व पुरुषों के लिए अलग अलग शौचालय और ऊपरी तल को जाने के लिए 4 लिफ्ट व 2 सीढ़ियां भी दी गयी हैं.

इसे भी पढ़ें : भाजपा की हार पर कड़िया मुंडा ने क्यों कही आदिवासियों के नेतृत्व वाली बात?

पहले फ्लोर पर मेयर सहित नगर आयुक्त का कमरा

निगम की नयी बिल्डिंग के पहले फ्लोर पर मेयर व नगर आयुक्त का कमरा बनाया गया है. इसी फ्लोर पर निगम बोर्ड परिषद की बैठक के लिए मीटिंग हॉल होगा.

बिल्डिंग के दूसरे फ्लोर पर डिप्टी मेयर और अपर नगर आयुक्त और निगम में कार्यरत दो उप नगर आयुक्तों का कमरा भी बनाया जा रहा है.

तीसरे फ्लोर पर पानी, बिजली व स्वास्थ्य शाखा, चौथे फ्लोर पर चीफ इंजीनियर एवं अन्य अभियंताओं के लिए बैठने के लिए कमरे, पांचवें तल पर निगम की विधि शाखा और सातवें फ्लोर पर स्मार्ट सिटी का कार्यालय बनाया गया है.

वाहनों की पार्किंग की भी उचित व्यवस्था

निगम के इस नये भवन में सभी अधिकारियों, कर्मचारियों सहित लोगों के वाहनों की पार्किंग की भी उचित व्यवस्था की गयी है.

बताया जा रहा है कि करीब 70 चार पहिया वाहनों और 200 से अधिक दो पहिया वाहनों की पार्किंग यहां आसानी से हो सकेगी.

इसे भी पढ़ें : कंबल घोटालाः जांच की चिट्ठी को रघुवर दास के प्रधान सचिव सुनील बर्णवाल ने दबाए रखा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like