Bihar

रालोसपा नेता की हत्या से आक्रोशित कुशवाहा का नीतीश सरकार पर हमला

Motihari: मोतिहारी में रालोसपा के नेता की हत्या के बाद नीतीश कुमार रालोसपा प्रमुख के निशाने पर हैं. बिहार के सीएम नीतीश कुमार से पहले से ही नाराज चल रहे कुशवाहा ने अपने पार्टी के नेता की हत्या दुख जताया. साथ ही नीतीश सरकार को आड़े हाथों लिया. उपेंद्र ने हाल में अपने पार्टी के कुछ नेता और कार्यकर्ताओं की हत्या की ओर इशारा करते हुए ट्वीट कर नीतीश से पूछा है, ‘माननीय मुख्यमंत्री जी, आखिर रालोसपा के और कितने साथियों की बलि चाहिए सुशासन की गरिमा को बनाए रखने के लिए ?’

क्या है मामला

दरअसल पूर्वी चंपारण जिले के पकड़ीदयाल प्रखंड के रालोसपा अध्यक्ष प्रेमचंद कुशवाहा की बुधवार और गुरूवार की दरम्यानी रात अज्ञात हमलावारों ने हत्या कर दी. पकड़ीदयाल थाने के निरीक्षक अशोक कुमार सिंह ने बताया कि प्रेमचंद कुशवाहा (40) संदुरपट्टी पंचायत के मंझार गांव के निवासी थे. और पकड़ीदयाल बाजार में अपना निजी क्लीनिक चलाते थे. रात में क्लीनिक बंद कर अपने घर लौट रहे थे, तभी अज्ञात हमलावारों ने उनकी लाठी-डंडे से बुरी तरह पिटाई करने और धारदार हथियार से उन पर वार करने के बाद उनकी गोली मारकर हत्या कर दी.

इस वारदात से आक्रोशित स्थानीय लोगों ने पकड़ीदयाल नेहरू चौक के समीप करीब पांच घंटे तक सड़क को जाम रखा. बाद में मामले में मृतक की पत्नी सरिता देवी ने भूमि विवाद को लेकर अपने पति की हत्या का दावा करते हुए इस मामले में चार लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी है. पुलिस फिलहाल मामले की जांच शुरू करने के साथ फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.

इस बीच, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से नाराज चल रहे रालोसपा प्रमुख और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने प्रेमचंद की हत्या को अत्यंत दुखद बताया और राज्य की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाये.उल्लेखनीय है कि इससे पहले इसी महीने छठ पूजा के दिन बिहार में एक और आरएलएसपी नेता की हत्या हुई थी. इससे पूर्व भी बीते कुछ महीनों के दौरान राज्य में कई आरएलएसपी नेताओं का मर्डर हो चुका है. इसके अलावा प्रदेश में कई आरएलएसपी नेताओं पर जानलेवा हमला भी हो चुका है.

इसे भी पढ़ेंः48 सालों तक राज करने वालों के वंशज पूछ रहे कि कृषि की योजनाएं लंबित…

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close