न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चिराग पासवान की कुशवाहा को दो टूकः दो नावों की सवारी करना बंद करें रालोसपा प्रमुख

10

Patna: बिहार एनडीए के घटक दलों के बीच चल रहे तकरार के बीच सोमवार को लोक जनशक्ति पार्टी ने राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा को खरी-खोटी सुनाई. लोजपा संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष चिराग पासवान ने केन्द्रीय मंत्री को दो नावों की सवारी को लेकर आगाह किया. गौरतलब है कि रालोसपा ने बिहार में एनडीए सहयोगियों के बीच सीटों के बंटवारे को अंतिम रूप देने के लिए 30 नवंबर तक का समय दिया है.

कुशवाहा को तय करना चाहिए उन्हें किसके साथ रहना है

पिछले महीने राजद नेता तेजस्वी यादव के साथ रालोसपा प्रमुख की बैठक का संभवत: हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि कुशवाहा को तय करना चाहिए कि क्या उन्हें राजग में बने रहना है या नहीं. चिराग पासवान ने कहा, समयसीमा तय कर और प्रधानमंत्री के सिवाय किसी और से बात नहीं करने का रुख अपना कर आप दबाव की रणनीति का सहारा ले रहे हैं. लोजपा संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष चिराग पासवान ने बिहार के मुख्यमंत्री और जद (यू) प्रमुख नीतीश कुमार के खिलाफ रालोसपा प्रमुख के लगातार हमलों को भी खारिज कर दिया. इसके अलावा, वह मुख्यमंत्री के खिलाफ बोल रहे हैं. आप गठबंधन का हिस्सा रहते हुये राजग के घटकों के खिलाफ नहीं बोल सकते हैं. यह दो नावों में सवारी के जैसा है.

वही अयोध्या में राम मंदिर बनने के मुद्दे पर चिराग पासवान ने पार्टी का रूख दोहराते हुए कहा कि इस मामले पर उच्चतम न्यायालय के फैसले का इंतजार किया जाना चाहिए.

ज्ञात हो कि कुशवाहा ने कहा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए राजग ने उनकी पार्टी को जितनी सीटों का प्रस्ताव दिया है वह सम्मानजनक नहीं है. उन्होंने भाजपा से 30 नवंबर तक इस पर पुनर्विचार करने को कहा है. वही एनडीए से जुड़े जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के सीएम नीतीश कुमार की उन्होंने प्रशासन सहित कई मुद्दों पर आलोचना की है. साथ ही उन पर अपनी पार्टी तोड़ने का प्रयास करने का आरोप लगाया है.

इसे भी पढ़ें –विधायक ढुल्लू और सांसद रवींद्र पांडेय को शो कॉज नोटिस जारी करेगी भाजपा

इसे भी पढ़ें – ढुल्लू पर शारीरिक शोषण की शिकायत करनेवाली को धमकी, केस उठा लो नहीं तो…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: