न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

तेज प्रताप यादव पर कार्रवाई के मूड में राजद , मिल रहे हैं संकेत

लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप पर राजद कार्रवाई की तैयारी कर रहा है. बता दें कि लंबे समय से तेज प्रताप राजद के लिए चुनौती बनते जा रहे हैं.

51

Patna : लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप पर राजद कार्रवाई की तैयारी कर रहा है. बता दें कि लंबे समय से तेज प्रताप राजद के लिए चुनौती बनते जा रहे हैं.  कभी परिवार की कलह तो कभी तेज प्रताप के विवादित बयानों की वजह से  पार्टी को नुकसान का डर सताने लगा है.  इस डर से निपटने के लिए पार्टी अब कड़ी रुख अख्तियार करने के मूड में है.  हालांकि महीने भर से तेज प्रताप के खिलाफ कार्रवाई न करने की लाचारी भी साफ-साफ दिख रही है.

राजद के बागी सवाल भी उठा रहे हैं कि पार्टी में दोहरा मापदंड क्यों है? राजद छोड़  मधुबनी से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री अली अशरफ फातमी ने राजद पर निशाना साधा है और पूछा है कि जिस जुर्म में अन्य नेताओं पर कार्रवाई कर दी जा रही है. उसी जुर्म में तेज प्रताप पर अबतक मेहरबानी क्यों  की जा रही है?

 इसे भी पढ़ें – पाक के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिरानेवाले विंग कमांडर अभिनंदन के लिए ‘वीर चक्र’ की…

hosp3

पार्टी में अनुशासन समिति का गठन हो सकता है

लेकिन इन सब के बीच अब पार्टी ने तेज प्रताप के खिलाफ कार्रवाई के संकेत दिये हैं.  सवालों से घिरी राजद के लिए अब जरूरत आ गयी है तेज प्रताप पर जल्द से जल्द कार्रवाई कर कार्यकर्ताओं और नेताओं में सकारात्मक संकेत दे.  ऐसे में सूत्रों की माने तो जल्द ही पार्टी में अनुशासन समिति का गठन हो सकता है.  लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप पिछले वर्ष से ही चर्चा में बने हुए हैं.

पहले पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक लेने की अर्जी दाखिल की ओर अपने परिवार से वैचारिक संबंधों में अलगाव दिखाया.  पिछले पांच महीने से मथुरा-वृंदावन की कई परिक्रमा कर चुके तेज प्रताप ने अपनी मां राबड़ी देवी के सरकारी आवास से भी दूरी बना रखी है.

वहीं छोटे भाई तेजस्वी यादव को लेकर भी आये दिन वे कोई न कोई बड़ा बयान दे ही देते हैं. इसके अलावा टिकट बंटवारे में विवाद कर के भी तेज प्रताप ने काफी सुर्खियां बंटोरी.  ऐसे में पार्टी और परिवार के सामने तेज प्रताप यादव के खिलाफ कार्रवाई की मजबूरी है.  राजद  उपाध्‍़यक्ष  शिवानंद तिवारी ने कहा है कि इस मामले पर विचार के लिए पार्टी अनुशासन समिति का गठन कर सकती है.  ताकि भविष्य में किसी तरह की नुकसान पार्टी ना झेलना पड़े.

 इसे भी पढ़ें – राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी  प्रमुख  शरद पवार को भी मोदी से डर लगने लगा है

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: