न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रिम्स निदेशक डॉ डीके सिंह बोले- एनेस्थीसिया विभाग कमजोर, काम की जरुरत

457

Ranchi: रिम्स के एनेस्थीसिया विभाग में काफी काम करने की जरुरत है. किसी भी हॉस्पिटल में एनेस्थेसियोलॉजिस्ट को एक टीम लीडर के रुप में देखा जाता है. लेकिन, रिम्स एनेस्थीसिया विभाग अभी काफी कमजोर है. यह बातें रिम्स के निदेशक डॉ डीके सिंह ने कही. डॉ सिंह रांची सोसायटी ऑफ एनेस्थेसियोलॉजिस्ट द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में अतिथियों को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि रिम्स के स्वरुप को निखारने के लिए सभी लोगों का सहयोग चाहिए. तभी कुछ बेहतर काम हो सकेगा. उन्होंने उम्मीद जताते हुए कहा कि रिम्स को संवारने में प्रत्येक व्यक्ति का साथ अवश्य मिलेगा. कार्यक्रम में संगठन द्वारा डॉ डीके सिंह को सम्मानित भी किया गया.

इस अवसर पर संस्था के सचिव डॉ नसीम अख्तर ने कहा कि डॉ. डीके सिंह आईएमएस, बीएचयू में एनेस्थीसिया एवं क्रिटिकल केयर के विभागध्यक्ष थे. उनके नेतृत्व में विभाग ने कई कृतिमान स्थापित किये हैं. डॉ अख्तर ने कहा कि डॉ सिंह एक अच्छे शिक्षक होने के साथ-साथ एक कुशल प्रशासक भी रहे हैं. हाल ही में उन्होंने क्रिटिकल केयर के नेशनल कॉन्फ्रेंस में सचिव की भूमिका में अपना योगदान दे चुके है. डॉ अख्तर ने कहा कि डॉ डीके सिंह को रिम्स की जिम्मेवारी मिलना बड़े सौभाग्य की बात है. उनके नेतृत्व में रिम्स जरुर नयी उचांईयों को प्राप्त करेगा. इस मौके पर रिम्स के एनेस्थीसिया विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ उषा सवालका एवं पूर्व शिक्षक प्रोफेसर जे प्रसाद, संस्था के अध्यक्ष डॉ विकास चंद्र गुप्ता, प्रोफेसर अजित कुमार, रिम्स के शिक्षक डॉ लाढ़ो लकड़ा, डॉ एसएन राय, डॉ अभिजीत व अन्य अतिथियों ने भी अपने-अपने विचार व्यक्त किये.

इसे भी पढ़ें: सांसद एवं विधायक ने पुल का दोबारा उद्घाटन किया, सीएम ने ढाई माह पहले ही किया था उद्घाटन

इसे भी पढ़ें: रिम्स में भर्ती मरीजों को कड़ाके की ठंड से बचने के लिए कंबल भी मयस्सर नहीं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: