न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राजस्व उप निरीक्षकों की हड़ताल समाप्त, 26 से लौटेंगे काम पर

राजस्व, निबंधन और भूमि सुधार मंत्री के साथ हुई वार्ता, अधिकतर मांगों पर बनी सहमति

173

Ranchi: राज्य भर के राजस्व उप निरीक्षकों (हल्का कर्मचारी) की एक महीने से चली आ रही हड़ताल सोमवार को समाप्त हो गयी. हड़तालीकर्मी 26 दिसंबर से योगदान दे देंगे. राजस्व, निबंधन और भूमि सुधार मंत्री अमर बाउरी, विभागीय सचिव केके सोन और संयुक्त सचिव राम कुमार सिन्हा की उपस्थिति में हड़ताली उप निरीक्षकों की वार्ता हुई. वार्ता के क्रम में हड़तालीकर्मियों की अधिकतर मांग सरकार की तरफ से मान ली गयी. यह आश्वासन दिया गया कि हाइकोर्ट के निर्देश पर वित्त विभाग की तरफ से ग्रेड-पे विसंगति को दूर करने के लिए गठित कमेटी के पास राजस्व उप निरीक्षकों का वेतनमान बढ़ाने और 24 सौ रुपये ग्रेड पे की मांग का प्रस्ताव भेजा जायेगा.

बढ़ेगा वेतन, दी जायेगी प्रोन्नति

सरकार की तरफ से यह आश्वासन भी दिया गया कि योग्यकर्मियों को अंचल निरीक्षक और अंचल निरीक्षकों को अंचल अधिकारी अथवा सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी (एएसओ) के पद पर प्रोन्नति दी जायेगी. हड़तालीकर्मियों की यह मांग थी कि जो कर्मी 25 वर्षों से अधिक समय से काम कर रहे हैं और स्नातक उत्तीर्ण नहीं हैं, उन्हें प्रोन्नति देने के लिए सरकार नियमावली को शिथिल करे. इस पर यह सहमति बनी कि जो ग्रैजूएट नहीं हैं, उनके लिए एक बार सरकार प्रोन्नति देने के लिए नियमों को शिथिल करेगी. सरकार की तरफ से ग्रैजूएट राजस्व उप निरीक्षकों को ही अंचल निरीक्षक और एएसओ में प्रोन्नति दिये जाने का प्रावधान है. इनके अलावा अन्य मांगों पर भी सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का भी फैसला लिया गया. झारखंड राजस्व उप निरीक्षक कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अमर कुमार सिन्हा, महासचिव और अन्य पदधारी वार्ता के दौरान मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें – सरकार करेगी पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम का गठन : मुख्यमंत्री

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: