Crime NewsJharkhandRanchi

फर्जी पुलिस बनकर अपराधियों को भगाने वाले गिरोह का खुलासा, एक गिरफ्तार

Ranchi: राजधानी रांची में अपराधियों के हौसले बुलंद है. अब अपराधी पुलिस को भी नहीं छोड़ रहे हैं. ताजा मामला राजधानी रांची का है. जहां पुलिस ऑफिसर का फर्जी प्रमाण पत्र बनाकर अपराधियों को शहर से भगाने में मदद करने वाला गिरोह सक्रिय है. इस घटना की जानकारी मिलने के बाद एसआईटी का गठन कर गिरोह का पर्दाफाश किया है. बताया जाता है ये गिरोह फर्जी पुलिस पदाधिकारी बनकर और फर्जी पुलिस का कार्ड के सहारे अपराधियों को भगाने में मदद करता है. गिरफ्तार युवक का नाम मेहंदी हसन है और सदर थाना क्षेत्र के बढ़गाईं का रहने वाला है. गिरफ्तार आरोपी के पास से पुलिस पदाधिकारी का फर्जी कार्ड और एक स्कॉर्पियो बरामद की गई है.

इसे भी पढ़ें:सोरेन परिवार ने झारखंड को किया कलंकित और शर्मसार, बदली कार्यपालिका की परिभाषाः बाबूलाल मरांडी

वहीं मुख्य सरगना फरार है जिसकी तलाश में पुलिस जुटी है. पुलिस की जांच और गिरफ्तार आरोपी से पूछताछ में बताया गया कि बिनोद तिर्की के नाम से कार्ड बनाया था.

Chanakya IAS
Catalyst IAS
SIP abacus

कार्ड में ओरिजिनल जन्मतिथि बदलकर और फोटो धुंधलाकर फर्जी तरीके से कार्ड बनवाया था.इसी कार्ड को दिखाकर टोल प्लाजा या पुलिस चैकिंग में पुलिस को दिखाकर पार हो जाता था.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali

इसे भी पढ़ें:रांची-वाराणसी इकोनॉमिक कॉरिडोर: हरियाणा की कंपनी एमजी कंस्ट्रक्शन को खजूरी से वायधनगंज फोरलेन रोड निर्माण का मिला काम

Related Articles

Back to top button