Crime News

सेवानिवृत्त दारोगा व उसके बेटे ने अधिवक्ता पर चलायी गोली, पुलिस ने दोनों को भेजा जेल, बंदूक व गोली जब्त

Giridih: सेवानिवृत्त दारोगा मिथिलेश सिंह और उनके बेटे ने सोमवार की शाम टावर चौक के समीप कविता मेडिकल के बाहर वाहन पार्किंग को लेकर हुए विवाद में एक अधिवक्ता पर गोली चला दी. बंदूक की नाल मुड़ जाने के कारण गोली अधिवक्ता अजंनी सिन्हा को नहीं लगी. जानकारी मिलने के बाद नगर थाना प्रभारी आदिकांत महतो थाना के एसआइ सूर्यराम के साथ घटनास्थल स्टेशन रोड स्थित पंपू तालाब के समीप रिटायर्ड दारोगा के आवास के समीप पहुंचे. उन्होंने दोनों बाप-बेटे को समझाने का प्रयास किया. लेकिन दोनों नशे की हालात में थे. आरोपी पिता-पुत्र ने पहले थाना प्रभारी महतो पर बंदूक तानी इसके बाद उसे समझाने आये एसआइ सूर्यराम पर भी बंदूक तान दी. आरोप है कि दोनों ने एसआइ सूर्यराम के ऊपर बंदूक तानते हुए गोली चलाने का प्रयास किया था. बंदूक का सेफ्टी लॉक ऑन रहने के कारण फायरिंग नहीं हुई. इसके बाद नगर थाना पुलिस ने आरोपी रिटायर पुलिस पदाधिकारी की बंदूक समेत उनके घर पर रखे 41 राउंड कारतूस को जब्त कर लिया.

इसे भी पढ़ें – कोयला चोरी रोकेंगे, खनिजों से अवैध कमाई नहीं होने देंगेः मुख्य सचिव

दोनों को भेजा जेल

मंगलवार को रिटायर्ड पुलिस पदाधिकारी मिथिलेश सिंह व उसके बेटे के खिलाफ जान मारने की नीयत और आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज कर जेल भेज दिया गया. सोमवार की देर शाम को हुई घटना के बाद मंगलवार को भुक्तभोगी अधिवक्ता के आवेदन पर नगर थाना प्रभारी आदिकांत महतो ने थाना कांड संख्या 100/19 में आर्म्स एक्ट में केस दर्ज कर जेल भेज दिया. नगर थाना प्रभारी महतो की मानें तो आरोपी दारोगा मिथिलेश सिंह व उसके बेटे अभिषेक ने जिस बंदूक से अधिवक्ता पर गोली चलायी थी, वह बंदूक लाइसेंसी थी. लेकिन चुनाव के दौरान कई बार मुफ्फसिल थाना पुलिस द्वारा नोटिस जारी करने के बाद भी आरोपी पिता-पुत्र ने हथियार जमा नहीं किया था. लिहाजा, अब पुलिस बंदूक का लाइसेंस रदृद करने की प्रकिया में भी जुट गयी है.

advt

इसे भी पढ़ें – कारनामों की वजह से फिर सवालों के घेरे में आये हजारीबाग के आरडीडीई शिवनारायण साह

क्या है घटना

जानकारी के अनुसार अधिवक्ता अंजनी सिन्हा टावर चौक के समीप कविता मेडिकल से दवा खरीद कर निकल रहे थे. इसी बीच दोनों आरोपी बाप-बेटे अंजनी सिन्हा की स्कूटी के समीप पहुंचे और वाहन पार्किंग को लेकर अधिवक्ता से उलझ गये. इस दौरान आरोपी बाप-बेटे को नशे की हाल में देख अधिवक्ता से वहां से निकले और कचहरी स्थित दुर्गा मिष्ठान भंडार पहुंच कर मिठाई खरीदने लगे. वहीं पीछा करते हुए दोनों बाप-बेटे भी मिठाई दुकान तक पहुंच गये. जहां दोनों ने अधिवक्ता से पहले मारपीट की, इसके बाद बंदूक का भय दिखा कर अधिवक्ता को अपने पंपू तालाब स्थित घर ले गये. जहां दोनों ने अधिवक्ता के साथ जम कर मारपीट की. इस बीच अंधेरे का फायदा उठा कर अधिवक्ता सिन्हा ने किसी तरह बगल में छिप कर सहयोग के लिए भाई अजय सिन्हा मंटु को बुलाया. वहीं अजय सिन्हा के पहुंचने से दोनों बाप-बेटे का गुस्सा और भड़क उठा. घर से बंदूक निकाल कर अजय सिन्हा के सामने गोली चला दी. लेकिन दोनों रांउड गोली आसमान में की तरफ चली गयी. इस बीच जानकारी मिलने के बाद नगर थाना की पुलिस पहुंची और बाप-बेटे को गिरफ्तार कर थाना ले आयी.

इसे भी पढ़ें – इंटर का रिजल्ट जारी, साइंस में 43 और कॉमर्स में 30 प्रतिशत बच्चे फेल

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button