ChaibasaJharkhand

विधवा की हत्या के आरोप में रिटायर्ड हवलदार गिरफ्तार

विज्ञापन

Chaibasa: मंगलवार को मुफस्सिल थाना परिसर में एक विधवा महिला की हुई हत्या के मामले का खुलासा किया है. मुख्यालय पुलिस उपाधीक्षक प्रकाश सोय व मुफस्सिल थाना प्रभारी दिग्विजय सिंह ने बताया कि पुलिस ने एक विधवा आदिवासी महिला को डायन के नाम पर हत्या की गयी थी. मामले में रिटायर्ड पुलिस हवलदार जगन्नाथ गोप, उसकी बेटी और दो ओझा को गिरफ्तार किया गया है. जबकि हत्या में शामिल चार अन्य आरोपी अब भी फरार है.

इसे भी पढ़ेंःअशोक नगर में जब खुल रहे थे सरकारी कार्यालय और राष्ट्रीय बैंक, तब क्यों सोया रहा विभाग

दो लाख की सुपारी देकर करायी गयी थी हत्‍या

मुफ्फसिल थाना में आयोजित प्रेस क्रांफ्रेंस में डीएसपी प्रकाश सोय ने आदिवासी विधवा महिला की हत्या का खुलासा करते हुए कहा कि  रिटायर्ड हवलदार जगन्नाथ गोप ने दो लाख की सुपारी देकर अपनी पड़ोस की विधवा की हत्या दोनों ओझा के कहने पर 13 मई 2018 को करायी थी. जगन्नाथ गोप के छोटे भाई की मौत फरवरी 2018 में हो गई थी. उसके बाद उसकी पत्नी काफी बीमार रहने लगी. पत्नी की बीमारी को लेकर हवलदार ने दो ओझा पांडू गागराई और शंकर गोप से दिखाया तो दोनों ओझा ने मुर्गा-मुर्गी की बलि देने और पूजा करने के बाद कहा कि उसे किसी डायन ने काला जादू कर दिया है.

इसलिए ठीक नहीं हो रही है और काला जादू आस-पास के किसी बुढी महिला ने की है. दोनों ओझा का इशारा मृतक सुखमति गागाराई की तरफ था. दोनों ओझा ने कहा कि उसकी हत्या किए बिना तुम्हारी पत्नी ठीक नहीं होगी, अगर तुम कहो तो उसे मरवा देंगे. लेकिन दो लाख लेंगे. हवलदार की सहमति के बाद ओझा ने चार युवक द्वारा 13 मई को आदिवासी विधवा की हत्या करा दी. जो अब तक फरार हैं. बता दें कि मुफस्सिल थाना क्षेत्र के सिमिबिया टोला इचाकुटी गांव निवासी एक वृद्ध विधवा की हत्या 13 मई 2018 को हुई थी। जिसमे पुलिस अनुसंधान में जुटी थी.

 इसे भी पढ़ें : JBVNL में 15 करोड़ का घपला और घपलेबाज को संरक्षण देने वाले आईएएस राहुल पुरवार पर सरकार की चुप्पी

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close