न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रिटायर दलपति की गला दबाकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

ग्रामीणों के अनुसार मामला अनैतिक संबंध से भी जुड़ा हुआ हो सकता है.

526

Palamu: राज्य में हत्या और अपराध रूकने का नाम ही ले रहा है. अपराधी बेखौफ अपराध को अंजाम दिए जा रहे है. सूबे के पलामू जिला के नावाबाजार थाना क्षेत्र के कंडा गांव में रिटायर दलपति डोमन सिंह (62वर्ष) की बीती रात गमछा से गला दबाकर हत्या कर दी गयी. उनका शव कंडा आंगनबाड़ी केन्द्र के बाहर से मिला है. घटना की सूचना मिलने पर डीएसपी सुरजीत कुमार, थाना प्रभारी अरविंद सिंह मौके पर पहुंचे. मामले की जांच तेज कर दी गयी है. जांच में खोजी कुत्ता की भी मदद ली जा रही है.

इसे भी पढ़ेंः वाड्रा के खिलाफ FIR राफेल और नोटबंदी से ध्यान हटाने की कोशिश: कांग्रेस

हत्या के कारणों का नहीं चल पा रहा है पता

बताया जाता है कि सोमवार की सुबह कंडा आंगनबाड़ी केंद्र के पास डोमन सिंह का शव बरामद किया गया. पुलिस को घटनास्थल से एक घड़ी बरामद हुई है. डोमन सिंह के माथे पर भी चोट के निशान है. घड़ी के माध्यम से पुलिस हत्यारों तक पहुंचने का प्रयास कर रही है. ग्रामीणों के अनुसार डोमन सिंह गांव बिचैलिया में काम करता थे. गांव के लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के नाम पर पैसा भी लेते थे. ग्रामीणों के अनुसार मामला अनैतिक संबंध से भी जुड़ा हुआ हो सकता है.

इसे भी पढ़ें: BJP सरकार ने अपने पूंजीपति मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिए किया राफेल घोटाला : शकील अहमद

SMILE

ग्रामीणों का कहना है कि रविवार की रात्रि में मृतक हर दिन की तरह घर के ही बगल में हरिजन टोला पर गए हुए थे. घर के लोग समझे की बगल में ही है. इधर, घरवाले सभी जन्माष्टमी पर्व को लेकर राम मंदिर के प्रांगण में उपस्थित थे, जहां कृष्ण उत्सव के बाद प्रसाद वितरण कर उनके पुत्र चंदन सिंह घर पर पहुंचे और पिता की खोजबीन की तो कुछ पता नहीं चला.

इसे भी पढ़ेंः बोफोर्स से भी बड़ा घोटाला है राफेल सौदा: प्रशांत भूषण

घटना के विरोध में कंडा बाजार बंद

डोमन सिंह के पुत्र ने जानकारी दी कि घटना रात लगभग 9 से 11 बजे के बीच की है. थाना प्रभारी अरविंद सिंह ने बताया कि अनुसंधान के तहत कार्रवाई की जा रही है. शव को पोस्टमार्टम हेतु मेदिनीनगर सदर अस्पताल में भेज दिया गया. डोमन सिंह के एक पुत्र चंदन सिंह और एक पुत्री है. चंदन कंडा प्लस टू विद्यालय में पारा शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं. इधर इस घटना के विरोध में कंडा बाजार की दुकाने अपराहन तक बंद रहा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: