न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आर्थिक रूप से पिछड़े उच्च जाति के लोगों को भी मिले आरक्षण : केंद्रीय मंत्री

बिहार में एससी-एसटी कानून के तहत दर्ज मामलों की बढ़ी हुई संख्या चिंताजनक - अठावले 

33

Patna : बिहार में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति उत्पीड़न की संख्या बढ़ गई है.  केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने बिहार में एससी/एसटी एक्ट उत्पीड़न निरोधक अधिनियम के तहत दर्ज मामलों की बढ़ी हुई संख्या पर चिंता व्यक्त करते हुए उम्मीद जतायी है कि राज्य सरकार दलितों की सुरक्षा एवं विकास के लिए और बेहतर काम करेगी.

अनुसूचित जाति और दिव्यांगों की राज्य में नियुक्तियों की स्थिति और सामाजिक न्याय मंत्रालय की योजनाओं के कार्यान्वयन को लेकर पटना में बृहस्पतिवार को बिहार सरकार के आला अधिकारियों के साथ एक बैठक की. बैठक के बाद अठावलने ने संवाददाताओं से कि बिहार में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अत्याचार निरोधक अधिनियम के तहत वर्ष 2014 में 6560 मामले, 2015 में 6372 मामले, 2016 में 5730, 2017 में 6826 और 2018 में अब तक 4517 मामले दर्ज हुए हैं.

इसे भी पढ़ें : इसरो ने मनुष्य को अंतरिक्ष में भेजने की डेडलाइन तय की, 2022 का इंतजार करें

hosp3

बेहतर काम करेगी बिहार सरकार

बैठक में भी उन्होंने इस मामले में चिंता व्यक्त करते हुए उम्मीद जतायी कि राज्य सरकार दलितों की सुरक्षा एवं विकास के लिए और बेहतर काम करेगी.

केंद्रीय मंत्री ने बैठक के दौरान एससी-एसटी छात्रों की छात्रवृत्ति, वृद्धों और दिव्यांगजनों की पेंशन, अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़ों को सरकारी मदद एवं नौकरियों में आरक्षण जैसे विषयों पर अधिकारियों से अद्यतन जानकारी ली और चर्चा की.

इसे भी पढ़ें : ईडी और सीबीआई के कुछ अधिकारी करप्शन छिपाने को नेपाल के सिमकार्ड का कर रहे इस्तेमाल

उच्च जातियों को आर्थिक आधार पर मिले आरक्षण : अठावले

केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता मंत्री रामदास अठावले ने उच्च जातियों में आर्थिक रूप से पिछडे़ लोगों को आरक्षण दिये जाने की मांग करते हुए गुरूवार को कहा कि इस आशय का प्रस्ताव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समक्ष राजग की बैठक के दौरान रखा गया है तथा संसद में भी इस मुद्दे को उठाया जाता रहा है.

इसे भी पढ़ें : आलोक वर्मा के पास राफेल मामले की फाइल होने की बात से सीबीआई का इनकार

बिहार के पहले मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण सिंह की 131वीं जयंती के अवसर पर गुरूवार को एस के मेमोरियल हॉल में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अठावले ने कहा कि उच्च जातियों में आर्थिक रूप से पिछडे़ लोगों को आरक्षण मिलना चाहिए. इस आशय का प्रस्ताव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समक्ष राजग की बैठक के दौरान रखा गया है तथा संसद में भी इस मुद्दे को उठाते रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : सरकार ने सोशल मीडिया कंपनियों को फिर चेताया, अफवाहों पर लगाम कसने को कहा

कार्यक्रम को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय, बिहार के भाजपा से कई मंत्री और सांसदों और विधायकों ने भी संबोधित किया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: