JharkhandRanchi

सीओ के घरों में रिमोट से खुलने वाले दरवाजे और लिफ्ट, उनकी संपत्ति की जांच करायी जाये: बंधु तिर्की

Ranchi: गुरुवार को विधानसभा बजट सत्र की दूसरी पाली में बजट पर वाद विवाद हुआ. इस दौरान विधायक बंधु तिर्की ने झारखंड में सीओ की संपत्ति की जांच कराने की मांग की है.

जब विपक्ष के विधायक ने अपनी चर्चा में एक साथ 150 से ज्यादा सीओ के ट्रांसफर का मुद्दा उठाते हुए कहा कि इस सरकार ने ट्रांसफर पोस्टिंग को उद्योग बना लिया है.

इसपर बंधु तिर्की ने कहा कि सीओ लोग को पिछली सरकार ने एक जगह बनाये रखा था. बहुत पेशेंस रखा और एक साल उस पद पर बनाये रखा, जिसके बाद ही ट्रांसफर किया गया.

बंधु तिर्की ने कहा कि महोदय यहां के सीओ के घरों में तीन तल्ला जाने के लिये लिफ्ट लगा हुआ है. रिमोट से इनके घरों में दरवाजा खुलता है. इतना पैसा इनके पास आया कहां से.  इनकी संपत्ति की जांच करायी जाए.

बंधु तिर्की ने अपने भाषण में कहा कि ये लाठी गोली और बड़ी-बड़ी बोली की सरकार नहीं है. ये सीएनटी-एसपीटी की रक्षा करने वाली और आदिवासियों-मूलवासियों की सरकार है.

इसे भी पढ़ें: निगम परिषद की बैठक के निर्णय को दरकिनार कर नगर आयुक्त ने रेरा प्रमुख को ऑफिस शिफ्ट करने के लिए लिखा पत्र

मोदी है तो मुमकिन है, क्या यही मुमकिन है कि देश बेच रहे हैं: उमाशंकर अकेला

कांग्रेस के विधायक उमा शंकर अकेला ने अपने भाषण में विपक्ष का जवाब देते हुए कहा कि क्या भारत सरकार जो बजट लाती है वो लूट के लिए होता है.

विपक्ष के विधायकों ने बजट पर कहा था कि लूट के लिए इतना बड़ा बजट सरकार ने लाया है. उमाशंकर अकेला ने कहा कि आप कहते हैं मोदी है तो मुमकिन है, क्या यही मुमकिन है कि देश बेच रहे हैं.

उन्होंने अपने भाषण के दौरान कहा कि जितने चापानल खराब पड़े हैं उनकी मरम्मत हो जाएगी तो नया लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

इसे भी पढ़ें: मदरसा परीक्षा का फॉर्म भरने की तिथि बढ़ी, अब 17 मार्च तक कर सकेंगे आवेदन

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: