JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

IAS पूजा सिंघल और सीए सुमन की रिमांड चार दिनों के लिए बढ़ी

Ranchi: ईडी कोर्ट ने निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल और सीए सुमन सिंह की रिमांड अवधि चार दिनों के लिए बढ़ा दी है. कोर्ट में ED के वकील ने अदालत से आग्रह किया कि पूजा को 9 दिन और सुमन को पांच दिनों की रिमांड पर लेने की इजाजत दी जाए, लेकिन कोर्ट ने चार दिनों की रिमांड की मंजूरी दी है. वकील की ओर से तर्क दिया गया है कि बहुत ऐसे सवाल हैं जिसका जवाब नहीं मिल पाया है. 20 मई को फिर से जज प्रभात कुमार शर्मा के सामने दोनों को प्रोड्यूस किया जाएगा.

डिजिटल डिवाइस से खुलेगा राज

ईडी की टीम डिजिटल डिवाइस से पूजा सिंघल से जुड़े सभी चैट को खंगाला रही है और कई ऐसी जानकारी सामने आई है जिसमें ईडी दोनों से पूछताछ करेगी. छानबीन के दौरान जो दस्तावेज मिलें है और माइनिंग ऑफिसर के सामने बैठाकर सबसे पूछताछ की जाएगी. कई ऐसे चैट मिलें है जिसमें पैसे की लेन देन की जानकारी है. उन सभी चैट को खंगाला जा रहा है.

SIP abacus
पत्रकारों को जानकारी देते ईडी के अधिवक्ता बीएमपी सिंह
MDLM
Sanjeevani

ईडी की विशेष अदालत में हुई पेशी

आय से अधिक संपत्ति और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में निलंबित आइएएस पूजा सिंघल और चार्टर्ड एकाउंटेंट सुमन कुमार सिंह को सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय के विशेष न्यायालय में प्रस्तुत किया गया. शाम चार बजे इन दोनों ईडी की अदालत में पेश किया गया. कोर्ट में ईडी के अधिवक्ता बीएमपी सिंह ने बताया कि पूजा सिंघल और सीए सुमन कुमार सिंह की रिमांड अवधि आज खत्म हो रही है. इसे लेकर आईएएस पूजा सिंघल और सुमन कुमार सिंह की पेशी होनी है. ईडी की तरफ से सात मई को चार्टर्ड एकाउंटेंट सुमन को गिरफ्तार कर आठ मई से लगातार न्यायिक हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. वहीं आइएएस पूजा सिंघल भी चार दिनों से ईडी की न्यायिक हिरासत में हैं. अब इनकी रिमांड अवधि चार दिनों के लिए बढ़ा दी गई है.

आपको बता दें कि 11 मई को पीएमएलए (प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट) कोर्ट में पेश किया गया था. जिसमें जज प्रभात कुमार शर्मा ने एक दिन की जेल और पांच दिनों के लिए रिमांड की अवधि दी थी. पांच दिनों तक पूछताछ के बाद पूजा सिंघल को आज फिर से अदालत के समक्ष प्रस्तुत किया.

झारखंड में 2009-10 में मनरेगा घोटाला हुआ था. उसी मामले में कुछ दिन पहले ED ने एक साथ झारखंड, पश्चिम बंगाल, हरियाणा और राजस्थान में रेड डाली थी. तब उसी रेड के दौरान ये 19 करोड़ 31 लाख रुपये बरामद किए गए.

इसे भी पढ़ें:झारखंड : सबूत के साथ हाईकोर्ट के अधिवक्ता ने ED को लिखा पत्र, कहा-दुमका में हो रहे अवैध पत्थर माइनिंग पर करें कार्रवाई

19 करोड़ 31 लाख रुपयों में से 17 करोड़ चार्टर्ड अकाउंटेंट अकाउंट के आवास से बरामद किए गए. बाकी रुपये एक कंपनी से मिले थे. उस समय ईडी ने पूजा सिंघल के आवास के अलवा उनके पति के रांची में स्थित पल्स अस्पताल में भी रेड डाली थी.

जांच एजेंसी को सिर्फ पैसे ही बरामद नहीं हुए बल्कि कई अहम दस्तावेज भी हाथ लगे हैं. इसके अलावा दोनों द्वारा कई फ्लैट में किए गए निवेश की बात भी सामने आई है. करीब 150 करोड़ के निवेश के कागजात मिलने की बात कही गई थी.

इसे भी पढ़ें:आम और खास के बीच चर्चा का बाजार गरम, आखिर 17 मई को क्या होगा?

Related Articles

Back to top button