Court NewsRanchi

दहेज उत्पीड़न केस में पूर्व डीजीपी डीके पांडेय को राहतः पीड़क कार्रवाई पर रोक

8 अगस्त को होगी मध्यस्थता

Ranchi:  अपनी बहू को प्रताड़ित करने और दहेज उत्पीड़न समेत अन्य गंभीर आरोपों को झेल रहे झारखंड के पूर्व डीजीपी डीके पांडे, उनके बेटे शुभंकर पांडेय और पत्नी को अदालत से बड़ी राहत मिल चुकी है. कोर्ट ने पूर्व डीजीपी डीके पांडे समेत उनके बेटे और पत्नी के खिलाफ किसी भी तरह की पीड़क कार्रवाई पर रोक लगा दी है. और कोई भी पीड़क कार्रवाई नहीं करने का आदेश दिया है. रांची सिविल कोर्ट के जज दिवाकर पांडे की अदालत ने इस मामले की सुनवाई के दौरान आदेश दिया है.

इसे भी पढ़ेंःलापरवाही: पिछले 10 दिनों में 5 अपराधी पुलिस हिरासत से हो गये फरार

मंगलवार को अदालत के निर्देश पर  इस  मामले में  मध्यस्थता की जानी थी,  जिसकी तैयारियां रांची जिला विधिक सेवा प्राधिकार  के द्वारा  की गई थी. लेकिन  कोरोना के  बढ़ते संक्रमण के बीच  रांची सिविल कोर्ट के अधिवक्ताओं ने खुद को  न्यायिक कार्यों से दूर रखा है,  जिसकी वजह से  मंगलवार को  मध्यस्थता  की प्रक्रिया की शुरुआत  नहीं हो सकी.  अब  इस मामले में 8 अगस्त को एक बार फिर सुलह की कोशिश की जाएगी.

ram janam hospital
Catalyst IAS

ज्ञात हो कि पूर्व डीजीपी डीके पांडे की बहू रेखा मिश्रा द्वारा दर्ज करवाए गए एफआइआर के बाद डीके पांडे की ओर से जमानत याचिका भी दाखिल की गई है. जिस पर 3 अगस्त को सुनवाई के लिए अदालत ने तारीख मुकर्रर की है. इस बीच अदालत के निर्देश पर दोनों ही पक्षों के बीच मध्यस्थता के लिए तिथि निर्धारित की गई थी.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

इसे भी पढ़ेंःCoronaUpdate: बीते 24 घंटे में दुनिया में सबसे अधिक मौतें भारत में, अबतक 33 हजार से अधिक की गयी जान

One Comment

  1. Awesome blog! Is your theme custom made or did
    you download it from somewhere? A design like yours with a few simple adjustements would really make my blog jump out.
    Please let me know where you got your theme. Thanks

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button