Crime NewsJharkhandRanchiTOP SLIDER

नक्सलियों ने बंधक जवान की तस्वीर जारी कर कहा, सरकार मध्यस्थों के जरिए वार्ता करे तभी रिहाई

Ranchi. छत्तीसगढ़ के बीजापुर में पुलिस-नक्सली मुठभेड़ के दौरान नक्सलियों ने एक जवान को बंधक बना लिया है. नक्सलियों ने जिस जवान राजेश्वर सिंह मनहास को अपने कब्जे में रखा है, आज उन्होंने उसकी तस्वीर जारी की है. नक्सलियों ने इसके साथ एक प्रेस नोट भी जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि जब तक सरकार की ओर से मध्यस्थता का ठोस निर्णय नहीं लिया जाता, तब तक जवान उनके कब्जे में रहेगा.

इसे भी पढ़ेंःइस साल भी बिजली दर का ऑनलाइन ही होगा, नहीं भरे गये अध्यक्ष व दो सदस्यों के खाली पद

इधर जवान की पांच साल की बेटी राघवी ने नक्सलियों से अपने पिता को रिहा करने की अपील की है. उसने कहा, ‘पापा की परी पापा को बहुत मिस कर रही है. मैं अपने पापा से बहुत प्यार करती हूं. प्लीज नक्सल अंकल, मेरे पापा को घर भेज दो.’ इसके बाद राघवी और उसके साथ वहां मौजूद सभी लोग रोने लगे. वहीं, जवान की पत्नी मीनू ने भी नक्सलियों से अपने पति को रिहा करने की अपील की है. सीआरपीएफ कोबरा बटालियन के जवान राकेश्वर सिंह मनहास कोथियन जम्मू कश्मीर निवासी हैं. उनकी पदस्थापना बीजापुर जिले में है.

नक्सलियों की दण्डकारण्य स्पेशल ज़ोनल कमेटी के प्रवक्ता विकल्प की ओर से जारी प्रेस नोट में कहा गया है कि वे वार्ता के लिए कभी भी तैयार हैं, लेकिन सरकार ईमानदार नही हैं. वार्ता के लिए अनुकूल माहौल बनाने का ज़िम्मा सरकार का है. नक्सलियों ने बंधक कोबरा जवान को छोड़ने के संबंध में कहा है कि सरकार वार्ता के लिए मध्यस्थों के नामों का एलान करे. वार्ता के बाद ही बंधक जवान को रिहा करने के बारे में विचार किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ेंःगिरिडीह में महुआ चुनने जंगल गयी महिला को हाथी ने कुचला, मौत

बता दें कि बीजापुर में नक्सलियों के हमले में 22 जवान शहीद हो गये थे. नक्सलियों ने प्रेस नोट जारी कर मुठभेड़ में अपने चार साथियों के मारे जाने की भी पुष्टि की है. प्रेस नोट में शहीद जवानों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की गयी है.

इसे भी पढ़ेंःIPL: RCB को बड़ा झटका, पडिक्कल के बाद अब डैनियल सैम्स को हुआ कोरोना

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: