JharkhandRanchi

शहर की सफाई व्यवस्था को लेकर एमटीएस अपने अधीन करने की कवायद में निगम

Ranchi :  निगम बोर्ड बैठक में कंपनी एस्सेल इंफ्रा को टर्मिनेट करने के निर्णय के बाद अब निगम कंपनी के सभी मिनी ट्रांसफर स्टेशन(एमटीएस) को अपने अधीन लेने की कवायद में लग गया है. लोकसभा चुनाव शुरू होने के कारण कंपनी को हटाने का काम थोड़ा ढीला पड़ गया था,  लेकिन  अब चुनाव खत्म होने को कुछ ही दिन शेष है, तो निगम ने अब इस दिशा में काम शुरू कर दिया है. निगम सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नगर निगम 2 मई से मोरहाबादी और खेलगांव एमटीएस को अपने हाथों में लेकर काम शुरू कर सकता है.

इसके बाद निगम क्रमबद्ध रूप से रांची एमएसडब्ल्यू द्वारा बनाये गये अन्य सभी एमटीएस को अपने हाथों में लेकर शहर की सफाई व्यवस्था  खुद संभालेगा. अन्य एमटीएम में खादगढ़ा, हरमू, कांटाटोली, मौलाना आजाद एमटीएस शामिल है. इसके पीछे का तर्क यह है कि कंपनी को टर्मिनेट करने के प्रस्ताव पास होने के बाद से कंपनी की  कार्यशैली में ढीलापन दिखना शुरू हो गया   है. उम्मीद  जतायी जा रही है कि जून के बाद ही निगम सभी वार्डों की सफाई व्यवस्था अपने हाथों में लेने में सक्षम हो जायेगा.

इसे भी पढ़ेंःटाटीसिलवेः सीएम ने पदयात्रा कर मांगे वोट, कहा- कांग्रेस को 44 से 4 सीट पर लाना है

Catalyst IAS
ram janam hospital

दो माह में चार बार कर्मचारी हड़ताल पर रहे

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

मालूम हो कि  सात मार्च को निगम बोर्ड की बैठक में एस्सेल इंफ्रा कंपनी को टर्मिनेट करने का प्रस्ताव पास हुआ था. इसके बाद से कंपनी ने काम करने का तरीका बदल दिया है. स्थिति यह हो गयी है कि राजधानी के 33 वार्डों की सफाई का ठेका लेने वाली कंपनी एस्सेल के कारण दो माह के अंदर लगभग चार बार कंपनी के कर्मचारी हड़ताल पर चले गये. गत बुधवार को भी कांटाटोली मिनी कूड़ा ट्रांसफर स्टेशन के कर्मचारी हड़ताल पर चले गये थे. इस वजह से कांटाटोली क्षेत्र के एक भी वार्ड से कूड़ा का उठाव नहीं हुआ. स्थिति तो उस समय काफी विकट हो गयी, जब पीएम नरेंद्र मोदी को राजधानी में एक रोड शो करना था. लेकिन सफाई का आलम कहीं नहीं दिख रहा था. हालांकि निगम ने अपने स्तर पर काम कर स्थिति को काफी हद तक संभाल लिया था.

इसे भी पढ़ें – 2019 के 31 मार्च तक सिंचाई परियोजनाओं पर खर्च हुए 4114.45 करोड़, फिर भी खेतों में नहीं पहुंचा पानी

अपर नगर आयुक्त ने भी जतायी है सहमति, जल्द शुरू होगा काम

सफाई कार्य व्यवस्था देख रहे निगम के सिटी मैनेजर संदीप कुमार ने बताया कि कंपनी को टर्मिनेट करने के बाद से ही निगम सभी एमटीएस को अपने अधीन लेने की कोशिश में है. चुनाव  के कारण इस पर कोई विशेष प्रयास नहीं हो सका था. लेकिन अब जल्द ही निगम इस और अपना काम शुरू करेगा. हालांकि किस तिथि को एमटीएस अधिग्रहित करने का काम शुरू होगा, इसे सिटी मैनेजर ने पुख्ता नहीं किया, लेकिन यह जरूर बताया कि अपर नगर आयुक्त ने भी इस कार्य पर अपनी सहमति जतायी है.

Related Articles

Back to top button