lok sabha election 2019

हो भाषा को 8वीं अनुसूची में शामिल करने के लिए होगी अनुशंसाः रघुवर दास

विज्ञापन
  • मुख्यमंत्री रघुवर दास ने चाईबासा में जनसभा को संबोधित किया
  • यह चुनावी महासमर वंशवाद बनाम लोकतंत्र का है
  • झामुमो को खुली चुनौती-आदिवासी हित में काम किया हो तो बताएं

Chaibasa: आज झारखंड को बेचनेवाले, झारखंड को खरीदनेवाले और मेरी लाश पर झारखंड का निर्माण होगा यह कहनेवाले एक होकर महागठबंधन के सहयोगी बने हैं. कांग्रेस, झामुमो और आरजेडी. ये तीनों झारखंड विरोधी शक्तियां हैं. झारखंड का निर्माण 1993 में ही हो जाता, लेकिन राज्य के सांसदों ने 2- 2 करोड़ लेकर झारखंड की अस्मिता को बेचा. झारखंड मुक्ति मोर्चा को यह खुली चुनौती है कि वह बताएं कि झारखंड के आदिवासियों के हित में उन्होंने क्या कार्य किया है. उपरोक्त बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहीं. श्री दास सोमवार को चाईबासा में आयोजित जनसभा में बोल रहे थे.

इसे भी पढ़ें – आतंकियों को पता है कि अगर देश में धमाका किया तो मोदी पाताल से ढूंढ़ कर  सजा देगा

हो भाषा को 8वीं अनुसूची में शामिल करने की होगी अनुशंसा

मुख्यमंत्री ने कहा कि भाषा संस्कृति का विकास होना चाहिए. संथाल संस्कृति अक्षुण्ण रहना चाहिए. इसके लिए हो भाषा को 8वीं अनुसूची में शामिल करने के लिए भारतीय जनता पार्टी अनुशंसा करेगी. साथ ही सरना धर्म कोड की भी अनुशंसा होगी. भाजपा जो कहती है वह करती है. वैसे भी जनजातीय भाषा के संवर्धन और संरक्षण के लिए विश्वविद्यालय स्तर पर इन भाषाओं को प्रोत्साहित किया जा रहा है.

advt

इसे भी पढ़ें – हेमंत करकरे पर प्रज्ञा ठाकुर के बयान को कुतर्क से सही ठहराना भयावह

10 साल के शासनकाल में क्यों नहीं बना मेडिकल कॉलेज

मुख्यमंत्री ने कहा कि 2004 से 2014 तक देश में कांग्रेस का शासन रहा. लेकिन चाईबासा की सुध किसी ने नहीं ली. वर्तमान सरकार ने चाईबासा में मेडिकल कॉलेज की आधारशिला रखी है. मई में इसका निर्माण कार्य प्रारंभ होगा. साथ ही सदर अस्पताल को भी अपग्रेड किया जाएगा, इसके लिए 314 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. कॉलेज का निर्माण होने से चाईबासा के युवाओं को लाभ होगा.

इसे भी पढ़ें – पीएम के रोड शो को लेकर नया ट्रैफिक रूट चार्ट जारी, पांच घंटे पहले पहुंचना होगा एयरपोर्ट

हमने गुदड़ी में चौपाल लगायी, चाईबासा को बदलने का हुआ प्रयास

मुख्यमंत्री ने कहा कि चाईबासा एक समृद्ध जिला है. लोहा उत्पादन में चाईबासा की बड़ी भूमिका है. लेकिन यहां के लोग और हो समाज गरीब. साढ़े 4 साल के कार्यकाल में वर्तमान सरकार ने चाईबासा को बदलने का प्रयास किया है, जिसमें पूर्ण रूप से हमें सफलता प्राप्त नहीं हुई है. गुदड़ी जैसी जगह में हमने चौपाल लगायी और ग्रामीणों की समस्या से रूबरू हुए. चाईबासा के गांव और घरों तक बिजली पहुंचाई, सड़कों का निर्माण हुआ, चाईबासा समेत झारखंड के विभिन्न जिलों में निवास करने वाली महिलाओं को इज्जत, सम्मान और सुरक्षा मिली. उन्हें उज्ज्वला योजना के जरिये धुआं से मुक्ति प्रदान किया गया.

adv

इसे भी पढ़ें – फेसबुक और ट्विटर लाइव में बड़ी पार्टियां लगा रही हैं चुनावी नईया पार

बदलाव चाहिए तो भ्रष्टाचारियों के गठबंधन को नकारना होगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड या चाईबासा में बदलाव चाहिए तो भ्रष्टाचारियों के महागठबंधन को नकारना होगा. सजग सचेत रहकर मतदान करना होगा. हो समाज के युवाओं से आग्रह है कि देश के नव निर्माण के लिए आप एक चौकीदार की भांति देश की सुरक्षा करें. ताकि मोदी जी के नेतृत्व में भारत आने वाले समय में कृति मानो के अन्य मजबूत आधार स्थापित कर सके. जबकि ये भ्रष्टाचारी नहीं चाहते कि मोदी जी सत्ता में आएं क्योंकि मोदी जी आएंगे तो ऐसे लोगों की जगह जेल में होगी. इसलिए उनका एक ही नारा है मोदी हटाओ.

इसे भी पढ़ें – गढ़वा : चुनाव में गड़बड़ी फैलाने के लिए हथियारों की खरीद-फरोख्त करते तीन गिरफ्तार

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button