JharkhandJharkhand PoliticsRanchiTOP SLIDER

गुरुजी की MLA पुत्रवधू सीता सोरेन के बागी तेवर, ‘बेईमानों-दलालों के हाथों में चला गया है झामुमो’

Ranchi: झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन की बड़ी पुत्रवधू और विधायक सीता सोरेन ने पार्टी के निर्णय के खिलाफ खुलकर बगावती तेवर अपना लिया है. गुरुवार को झामुमो महासचिव बिनोद पाण्डेय के हस्ताक्षर से चतरा जिला के दो केंद्रीय सदस्य सहित दर्जन भर कार्यकर्ताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था.

इसके बाद विधायक सीता सोरेन ने ट्वीट के माध्यम से कड़ी आपत्ति जतायी है. उन्होंने साफ़ शब्दों में कहा है कि पार्टी अब बेईमानों और दलालों के हाथ में चल गयी है.

सीता सोरेन ने अपने ट्वीट में झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन को संबोधित करते हुए लिखा है, “मुक्त करो मुझे शैतानों से सोये क्यूं हो अबतक, रो-रो कर कहती धरती माता, दो हर दिल पर दस्तक.” उन्होंने लिखा है कि जिस जल जंगल जमीन को बचाने के लिए झारखंड का निर्माण किया गया था वो झारखंड अब खुद को बचाने की पुकार कर रहा है.

Catalyst IAS
ram janam hospital
The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

इसे भी पढ़ें:रांची में जैप-2 में हुआ पासिंग आउट परेड, संपूर्ण दायित्व निभाने के लिए दिलायी गयी शपथ

माननीय केंद्रीय अध्यक्ष आदरणीय शिबू सोरेन जी, आपके और स्व. दुर्गा सोरेन जी के खून-पसीने से खड़ी की गयी पार्टी वर्त्तमान में दलालों और बेईमानों के हाथों में चली गयी है, ऐसा प्रतीत हो रहा है.

स्थिति अगर यही रही तो पार्टी कई गुटों में बंटती नजर आएगी. लिखा है कि दलालों और बेईमानों से पार्टी को बचाना अब सिर्फ आपके हाथों में है.

जिस उम्मीद और आशा के साथ पार्टी की नींव रखी गयी थी उसे सुरक्षित रखने की जिम्मेदारी सिर्फ आपके हाथों में है और किसी में नहीं. पार्टी तोड़ने की कोशिश करनेवालों पर कड़ी कारवाई आप करें न कोई और.

इसे भी पढ़ें:चाईबासा DC का आदेश नहीं मान रहे BDO, जनवरी से लटका है 26 पंचायत सचिवों पर प्रपत्र-क गठित करने का मामला

पहले भी सीता सोरेन ने कई बार जताया है विरोध

यह कोई पहला मौका नहीं है, पहले भी सीता सोरेन ने खुलकर पार्टी के कई निर्णयों की मुखालफत की है. पूर्व में भी पार्टी महासचिव बिनोद पाण्डेय सहित मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के करीबी पर सीता सोरेन ने ट्वीट के माध्यम से कटाक्ष किये हैं. पिछले वर्ष धनबाद में एक कार्यक्रम में भी सीता सोरेन ने पार्टी के कार्यकलापों की निंदा की थी.

मालूम हो कि कुछ दिन पहले सीता सोरेन की पुत्रियों ने दुर्गा सोरेन सेना का गठन किया है. इसके बाद से राजनीतिक गलियारे में कई तरह की चर्चाओं का बाजार गरम है.

लगातार दुर्गा सोरेन की पुत्रियां राज्य के विभिन्न जिलों में दुर्गा सोरेन सेना के बैनर तले कार्यक्रम कर रही हैं. इस बीच जिस तरह से सीता सोरेन का यह ट्वीट सामने आया है, वो किसी और बात की ओर इशारा तो नहीं कर रहा.

इसे भी पढ़ें:रिम्स में तीसरे और चतुर्थवर्गीय पदों पर स्थायी नियुक्ति को लेकर हाइकोर्ट ने प्रबंधन से मांगा जवाब

Related Articles

Back to top button