Lead NewsNationalWest Bengal

बंगाल भाजपा में बगावत की आहट, 74 में 50 विधायक ही राजभवन पहुंचे

टीएमसी की ओर टकटकी लगाये हुए हैं कई भाजपा विधायक

Kolkata: पश्चिम बंगाल भाजपा में बगावत की आहट सुनाई दे रही है. इसको लेकर अटकलों का बाजार गर्म है. दरअसल, बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी सोमवार को गवर्नर जगदीप धनखड़ से मिलने पहुंचे तो उनके साथ 74 में से सिर्फ 50 विधायक ही राजभवन पहुंचे. इस बैठक का उद्देश्य राज्य हो रही अप्रिय घटनाओं से राज्यपाल जगदीप धनखड़ को अवगत कराना था. इसके साथ ही विभिन्न मुद्दों पर चर्चा होनी थी.

मालूम हो कि विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस के बाद सबसे अधिक सीटें जीतकर भाजपा राज्य की दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बन गई है. यह मामला ऐसे समय में हुआ है, जब भाजपा छोड़कर मुकुल राय टीएमसी में शामिल हुए हैं. कई भाजपा नेता पार्टी में वापसी के लिये ममता से गुहार लगा रहे हैं. कुछ जगहों पर भाजपा कार्यकर्ता खुलेआम ममता से माफी मांग रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :कोरोना के इलाज के लिए SBI दे रहा है 5,00,000 रुपये तक का लोन, जानिये कैसे ले सकते हैं

चर्चा है कि मुकुल राय के टीएमसी में शामिल होने के बाद भाजपा के कई नेताओं ने टीएमसी से संपर्क साधा है. यदि कुछ भाजपा विधायक जल्द ही टीएमसी में शामिल हो जाये तो इसमें अचरज नहीं होनी चाहिये. हालांकि, भाजपा ने ऐसी किसी भी बगावत की अफवाह को खारिज किया है, लेकिन सुवेंदु के साथ ना जाने वाले विधायकों की गैर हाजिरी पर पार्टी ने कोई प्रतिक्रिया भी नहीं दी है.

advt

भाजपा नेता राजीव बनर्जी, दीपेंदु विश्वास और सुभ्रांशु रॉय समेत कई अन्य की टीएमसी में जाने की चर्चा है. भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी ने सोमवार को कहा कि अगर मुकुल रॉय विधायक पद से इस्तीफा नहीं देते हैं तो वह उनके खिलाफ विधानसभा अध्यक्ष को दल-बदल कानून के तहत कार्रवाई के लिए आवेदन देंगे.

इसे भी पढ़ें :पहले से अधिक ख़तरनाक हुआ कोरोना का डेल्टा वैरिएंट, जानिए-इसे लेकर क्यों चिंतित हैं वैज्ञानिक ?

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: