JamshedpurJharkhand

सगी बुआ पर बेघर करने का आरोप, एसएसपी से शिकायत

Jamshedpur :  मानगो संकोसाई की रहने वाली दो बहनों ने पूर्व महिला पुलिस अधिकारी व सगी बुआ पर घर से बेघर करने का आरोप लगाते हुए एसएसपी से शिकायत की है. मानगो डिमना रोड के रोड नंबर पांच संकोसाई के गुडरुबासा की रहने वाली विनीता लकड़ा और उसकी छोटी बहन प्रीति लकड़ा ने बताया कि उनका संयुक्त परिवार है. बचपन से पूरा परिवार चाईबासा में रहता था. कुछ वर्ष पूर्व बुआ मानगो में अपना घर बनवा कर रहने लगी. बुआ शांतिलता अविवाहित होने के कारण हम दोनों बहनों को अपनी संतान मानते हुए परवरिश की। शांति लाकड़ा के भाई एल्विस लकड़ा विधानसभा रांची के कर्मचारी हैं और उनकी दूसरी बहन कनक लकड़ा रांची क्राइम ब्रांच सचिवालय में पूर्व पुलिस अधिकारी के पद पर थीं. 2021 में कोरोना से संक्रमित होकर बुआ शांतिलता लकडा की मौत हो गई. इसके बाद से एल्विस लकडा दूसरी बुआ कनक लकड़ा और उनकी बेटी स्नेहा लता कुजुर तीनों मानगो वाले घर पर अपना हिस्सा होने का दावा करते हुए कब्जा करने का प्रयास करने लगे. दोनों बहनों को बेघर करने के लिए उनके साथ अक्सर मारपीट की जाती है. बीते 27 जनवरी को भी उन तीनों ने घर में ताला लगा कर दोनों के साथ मारपीट कर घर से भगा दिया. इसकी शिकायत स्थानीय थाने में करने पर थाने के पुलिसकर्मी आपस में समझौता कर बंटवारा कर लेने की नसीहत देते हुए चले गए. मजबूरन दोनों बहनों विनीता और प्रीति लकड़ा ने एसएसपी के पास पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई है.

इसे भी पढ़ें – महिलाओं को आत्मनिर्भर बनायेगा मशरूम उत्पादन का प्रशिक्षण : राजकुमार सिंह

Related Articles

Back to top button