न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पढ़ें और सुनें कैसे चुनावी सभाओं में झूठ बोल गये पीएम मोदी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी

1,808

Akshay Kumar Jha

Ranchi: झारखंड में चुनाव के मद्देनजर बीजेपी ने अपने स्टार प्रचारकों की झड़ी लगा दी है. रोज ही झारखंड में कोई ना कोई स्टार प्रचारक उम्मीदवारों का प्रचार करने के लिए पहुंच रहा है.

Sport House

लोगों के बीच भी इन स्टार प्रचारकों को देखने और सुनने का भी क्रेज काफी ज्यादा है. खास कर पीएम मोदी की सभाओं में काफी भीड़ जुट रही है. मोदी की सभाओं के लिए पार्टी को भीड़ जुटाने में ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ रही है.

रविवार को इसी क्रम में केंद्रीय कपड़ा स्मृति ईरानी गोमिया विधानसभा क्षेत्र पहुंचीं तो सोमवार को पीएम बरही और बोकारो पहुंचे. लेकिन अपने चुनावी संबोधन में दोनों ने कुछ बातें झूठ कहीं. जानें क्या झूठ कह गये मोदी और ईरानी.

Mayfair 2-1-2020

इसे भी पढ़ें : आखिर क्यों मंत्री लुईस मरांडी को कहना पड़ा, ‘दे दीजिए तीर-धनुष को अपना वोट?’

बोकारो की पटना और कोलकाता की कनेक्टिविटी सुनिश्चित हुई हैः मोदी

बोकारो के सेक्टर पांच मैदान में खचाखच भरी भीड़ के बीच पीएम मोदी बीजेपी सरकार की उपलब्धियों को गिनवा रहे थे. हर क्षेत्र में काम हुआ है, ऐसा वो कह रहे थे.

पब्लिक को इन्हीं काम के एवज में दोबारा बीजेपी की सरकार बनाने की अपील कर रहे थे. तभी बातों-बातों में उन्होंने एक झूठ कह दिया.

उन्होंने कहा कि उड़ान योजना के तहत बिरसा मुंडा एयरपोर्ट, बोकारो एयरपोर्ट और दुमका एयरपोर्ट का नवीनीकरण और आधुनिकीकरण का काम किया गया है. आज बोकारो की कोलकाता और पटना से कनेक्टिविटी सुनिश्चित हुई है. वहीं हजारीबाग भी कोलकाता से जुड़ जायेगा.

लेकिन सच यह है कि बोकारो एयरपोर्ट से किसी तरह की कोई कमर्शियल फ्लाइट की शुरुआत नहीं हुई है. इसी मामले पर न्यूज विंग ने बोकारो एयरपोर्ट का काम देखने वाली अधिकारी Airport Authority Of India की सीनियर मैनेजर प्रियंका शर्मा से बात की.

उन्होंने कहा कि अभी बोकारो एयपोर्ट उड़ान भरने के लिए तैयार नहीं है. अभी करीब 6-8 महीने लगेंगे यहां से उड़ान भरने में. चार्टर्ड फ्लाइट तो यहां आ सकती है. लेकिन कमर्शियल फ्लाइट नहीं. ऐसे में पीएम मोदी की बात झूठी साबित हुई कि पटना और कोलकाता, बोकारो से जुड़ चुके हैं.

इसे भी पढ़ें : 3.5 करोड़ रूपये की फर्जी निकासी करने वाले इंजीनियर JBVNL में स्वतंत्र, कुछ तो प्रमोशन से बने अधिकारी

उज्ज्वला योजना की शुरुआत मोदी ने झारखंड से की : ईरानी

रविवार को गोमिया विधानसभा क्षेत्र के पेटरवार में कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी लोगों को संबोधित कर रही थीं. वो लगातार पीएम मोदी की तारीफ करते हुए विकास का ताना-बाना बुन रही थीं.

उसी बीच उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने यह कल्पना की कि अब गरीब की मां-बेटी और बहु धुएं से भरी रसोई में खाना नहीं पकायेगी. उसे भी उतना ही सिलेंडर का अधिकार है जितना अमीर घर की बेटियों का है.

हिंदुस्तान में पहली बार यह सोच लाने वाला भारतीय जनता पार्टी का नेतृत्व था. और यही झारखंड की धरती थी जहां पर उज्ज्वला योजना की शुरुआत हुई. और आज मन प्रसन्न होता है कि देश के आठ करोड़ महिलाओं को सिलेंडर मिला.

जबकि सच्चाई ये है कि 1 मई 2016 को पीएम मोदी ने उज्ज्वला योजना की शुरुआत बलिया से की थी. जिसे आसानी से गूगल कर खोजा और देखा जा सकता है.

अब सवाल है कि विकास होगा तो दिखेगा. तो इसमें देश के इतने सम्मानित नेताओं को झूठ बोलने की क्या जरूरत?

इसे भी पढ़ें : #JharkhandElection: चैनल के लाइव डिबेट शो में भिड़े दो दलों के कार्यकर्ता, झाविमो महासचिव घायल

SP Deoghar

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like