BiharLead News

अकूत संपत्ति के आरोपों पर घिरे आरसीपी सिंह,जदयू ने नोटिस थमा आरोपों पर मांगा जवाब

Patna: जदयू में सीएम नीतीश कुमार और पूर्व केंद्रीय मंत्री और पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह के बीच बढ़ती दूरियां अब सार्वजनिक होने लगी है. जदयू ने आरसीपी सिंह को नोटिस जारी कर उनसे संपत्तियों के विवरण में विसंगतियों पर जवाब मांगा है. पूर्व केंद्रीय मंत्री रामचंद्र प्रसाद सिंह को यह नोटिस बिहार जदयू प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा ने जारी किया है. जारी नोटिस में कहा गया है कि सिंह और उनके परिवार के नाम पर 2013-2022 से पंजीकृत अचल संपत्तियों के विवरण में विसंगतियां हैं, इसलिए वे जल्द से जल्द इस नोटिस का जवाब दें.

इसे भी पढ़ें:  झारखंड पुलिस को स्वतंत्रता दिवस पर ड्रोन हमले की आशंका, उड़ान पर लगायी गयी रोक

अकूत संपत्ति जुटाने का आरोप

ram janam hospital
Catalyst IAS

कभी नीतीश के बेहद करीबी रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह को नोटिस भेजने को लेकर पार्टी ने कहा है कि इस संबंध में नालंदा जिला जदयू के दो नेताओं ने साक्ष्य के साथ शिकायत की है,जिसमें आरसीपी सिंह एवं उनके परिवार के नाम से वर्ष 2013 से 2022 तक अकूत अचल संपत्ति पंजीकृत कराई गई है. इसमें कई प्रकार की अनियमितताएं नजर आती हैं.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

नीतीश के जीरो टॉलरेंस नीति पर मांगा जबाब

जदयू के भेजे गए नोटिस में आरसीपी सिंह को सीएम नीतीश कुमार के करीबी होने,दो बार राज्यसभा सांसद बनाने के साथ-साथ पहले पार्टी का राष्ट्रीय महासचिव और उसके बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने की भी चर्चा की गई है साथ ही केंद्र सरकार में जदयू के प्रतिनिधि के रूप में केंद्रीय़ मंत्री तक बनाने की चर्चा की गई. नीतीश कुमार के भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाने की याद दिलाते हुए आरसीपी सिंह से कहा गया है कि लंबे सार्वजनिक जीवन के बावजूद नीतीश कुमार पर कभी कोई दाग नहीं लगा और न उन्होंने कोई संपत्ति बनाई. ऐसे में पार्टी आपसे अपेक्षा करती है कि शिकायत का बिंदुवार जवाब दें.कुशवाहा ने नोटिस का तत्काल जवाब देने का भी अनुरोध किया है.

इसे भी पढ़ें:  Commonwealth Games: पहलवानों की दमखम से मेडल टैली में भारत की लंबी छलांग, जानें-आज किनसे हैं उम्मीदें

Related Articles

Back to top button