न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आरबीआई सर्वे :  नौकरियां होंगी,  अर्थव्यवस्था भविष्य में सुधरेगी…वर्तमान ठीक नहीं

देश में 47 प्रतिशत लोग मानते हैं कि नौकरियों को लेकर स्थिति खराब हो रही है.  इस तरह सोचने वाले लोगों की संख्या नवंबर 2017 के बाद सर्वाधिक है.  

1,160

 NewDelhi : देश में 47 प्रतिशत लोग मानते हैं कि नौकरियों को लेकर स्थिति खराब हो रही है.  इस तरह सोचने वाले लोगों की संख्या नवंबर 2017 के बाद सर्वाधिक है.  रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के इंडियन कंज्यूमर कॉन्फिडेंस पर आये ताजा सर्वे के आंकड़े यही बता रहे हैं. हालांकि, सर्वे में शामिल 54 प्रतिशत लोगों ने विश्वास जताया कि लोकसभा चुनाव से पहले और अगले 12 महीनों में नौकरी के परिदृश्य में सुधार होगा. बता दें कि आरबीआई का इंडियन कंज्यूमर कॉन्फिडेंस पर सर्वे नवंबर में देश के 13 शहरों में किया गया और 5 दिसंबर को जारी किया गया.  इसी तरह, अर्थव्यवस्था में सुधार महसूस करने वाले लोगों की संख्या लगातार तीसरे द्विमासिक सर्वे में कम हुई है.

mi banner add

53.6 प्रतिशत लोगों ने कहा, अगले साल अर्थव्यवस्था बेहतर होगी

Related Posts

मुकेश अंबानी का वेतन लगातार 11वें साल 15 करोड़ रुपये बरकरार, रिश्तेदार निखिल की सैलरी  20.57 करोड़ पहुंची

भारत के सबसे अमीर उद्यमी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी का वार्षिक वेतन पैकेज लगातार 11वें साल 15 करोड़ रुपये के स्तर पर बना रहा.

उत्तर देने वाले 53.6 प्रतिशत  लोगों का कहना है कि अगले साल अर्थव्यवस्था की स्थिति बेहतर होगी.  अगले साल के लिए विश्वास जताने वाले लोगों की संख्या दिसंबर 2017 के बाद सर्वाधिक है.  मतों में इस तरह की भिन्नता को लेकर पूर्व मुख्य सांख्यिकीविद प्रणब सेन ने कहा, आंकड़े कह रहे हैं कि मौजूदा अर्थव्यवस्था और वित्तीय बाजार में जो चल रहा है उसे लोग पसंद नहीं कर रहे हैं.  बाजार, अर्थव्यवस्था या संस्थाओं में उथल-पुथल को पंसद नहीं किया जाता है और यह शॉर्ट टर्म के लिए विचारों में दिख भी रहा है, लेकिन लोग अर्थव्यवस्था की  क्षमता और मजबूती जानते हैं. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया समूह के मुख्य आर्थिक सलाहकार सौम्य कांति घोष ने कहा कि नौकरी और अर्थव्यवस्था को लेकर मौजूदा आशंकाएं गिरते रुपये, तेल कीमतों को लेकर अनिश्चितताएं और लहरों से भरे शेयर बाजार की वजह से है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: