न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रवीश कुमार का प्राइम टाइम, योगेंद्र यादव ने कहा-23 मई को हैरान होने के लिए हो जाइए तैयार  

रवीश कुमार के प्राइम टाइम (एनडीटीवी) में सामाजिक कार्यकर्ता और पूर्व चुनाव विशेषज्ञ योगेंद्र यादव ने भी दावा किया है कि इस बार नतीजों में हमें हैरान होने के लिए तैयार रहना चाहिए.

337

NewDeli : रवीश कुमार के प्राइम टाइम (एनडीटीवी) में सामाजिक कार्यकर्ता और पूर्व चुनाव विशेषज्ञ योगेंद्र यादव ने भी दावा किया है कि इस बार नतीजों में हमें हैरान होने के लिए तैयार रहना चाहिए. बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 में लगभग सभी एग्जिट पोल एनडीए की सरकार बनने का दावा कर रहे हैं. एनडीटीवी के पोल ऑफ एग्जिट पोल्स में भी बीजेपी की सरकार बनने के संकेत मिल रहे हैं. लेकिन इसी मुद्दे पर रवीश कुमार के प्राइम टाइम में   पूर् चुनाव विशेषज्ञ योगेंद्र यादव का दावा है कि इस बार नतीजों में हमें हैरान होने के लिए तैयार रहना चाहिए.  कहा कि आंध्र प्रदेश के एग्जिट पोल से कोई बड़ी हैरानी नहीं है क्योंकि वहां पहले से ही संकेत मिल रही थे कि वाईएसआर कांग्रेस वहां टीडीपी से अच्छा प्रदर्शन  कर रही है.

इसे भी पढ़ेंःविदेश, रक्षा समेत कई केंद्रीय मंत्रियों ने नहीं किया सरकारी बंगलों का बकाया भुगतान

सपा-बीएसपी का गठबंधन बीजेपी को धराशायी कर देगा, लेकिन…

योगेंद्र यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश से जो संकेत मिल रहे हैं, वह हतप्रभ करने वाले हैं. शुरू में ऐसा लगता था कि सपा और बीएसपी का गठबंधन बीजेपी को धराशायी कर देगा लेकिन ऐसा होते दिख नहीं रहा है. योगेंद्र यादव के अनुसार या तो दोनों को बीच बराबर की लड़ाई होगी या फिर बीजेपी को ज्यादा सीटें आयें. उन्होंने कहा कि कागजों में बीजेपी भले ही कमजोर लग रही थी क्योंकि माना जा रहा था कि दलित+यादव+मुस्लिम वोट मिलकर बीजेपी पर भारी पड़ेंगे.

लेकिन अब चुनाव के तरीके बदल गये हैं और केवल जातियों के दम पर चुनाव नहीं जीते जा सकते हैं. इसके लिए एक बड़ा सपना दिखाना पड़ता है, तस्वीर दिखानी पड़ती है जो महागठबंधन के पास नहीं थी. योगेंद्र के अनुसार लोगों से बात करो तो कहेंगे हां, या सब ठीक है यादव और मुस्लिम तो महागठबंधन को वोट दे ही रहा है लेकिन उसी यादव परिवार का कोई लड़का चुपचाप कहीं और वोट दे आता है. दलित समुदाय से कोई जाति कटकर कहीं और चली जाती है.

इसे भी पढ़ेंःएग्जिट पोल पर भड़का विपक्षः कांग्रेस ने नकारा तो ममता ने कहा- अटकलबाजी

Related Posts

#MultiPurposeIDCard: आधार, DL, वोटर ID सब के लिए एक ही कार्ड- अमित शाह ने दिया प्रस्ताव

2021 की जनगणना होगी डिजिटल, मोबाइल एप के जरिये जुटाये जायेंगे आंकड़ें

मैं भी एग्जिट पोल से हतप्रभ हूं

योगेंद्र यादव का कहना है कि इस सब की वजह से मैं भी एग्जिट पोल से हतप्रभ हूं और साथ में यह भी कहा कि थोड़ा हैरान रहने के लिए तैयार रहिए क्योंकि बीजेपी जमीन में उतनी कमजोर नहीं है. उसकी वजह यह है कि मोदी को लेकर देश में जो रुझान है, ये जो गुजरात से चल रहा है पूरे उत्तर और पश्चिमी भारत में एकतरफा है. वह हर राज्य में दो चार प्रतिशत पर असर डाल रहा है. गांव में चुपचाप 50 लोग दूसरी ओर वोट डाल आते हैं.

ऐसा संभव है.  पश्चिम बंगाल और ओडिशा में भी साफ था बीजेपी यहां फायदे में है. ऐसा लग रहा है कि बीजेपी ने 30 फीसदी आंकड़ा पार कर लिया है और बीजेपी के पक्ष में वैसा ही उफान है जैसा कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी को लेकर था और जब ऐसा होता है कि आप कह नहीं सकते कि कितनी सीटें आ जायेंगी. लेकिन बीजेपी 10 से अधिक सीटें आने वाली हैं. ओडिशा में भी बीजेपी कम से कम आधी सीट पा रही है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: