न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नीलगाय पर नीतीश सरकार के फैसले से नाराज रवीना टंडन और ईशा गुप्ता, ऐसे जाहिर किया गुस्सा

953

Patna: बिहार के वैशाली में एक जख्मी नीलगाय को जिंदा दफना देने का मामला सामने आया है. पूरे वाकये का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

और सोशल मीडिया पर एक्टिव रहनेवाली अत्रिनेत्री रवीना टंडन ने वायरल होते इस वीडियो पर जमकर अपना गुस्सा निकाला और बेबाकी से अपनी राय रखी. रवीना ने ट्विट करते हुए नीतीश सरकार पर अपनी भड़ास निकाली.

इसे भी पढ़ेंः#EconomicSlowDown खस्ता हाल ऑटो सेक्टर को राहत देने में सरकार पर पड़ेगा 30 हजार करोड़ का भार

नीलगाय को जिंदा दफनाने पर भड़कीं रवीना

फसलों को नुकसान पहुंचा रही नीलगाय को मारा जा रहा है. वहीं वैशाली के वायरल इस वीडियो में जब गोली मारने के बाद भी एक नीलगाय नहीं मरी तो उसे जिंदा दफनाने का फैसला लिया गया.

वीडियो में साफ-साफ दिख रहा है कि जेसीबी (JCB) की मदद से नीलगाय को एक गड्ढे में जिंदा ही दफना दिया गया. इस वीडियो पर अपना गुस्सा जताते और इस फैसले का विरोध करते हुए रवीना टंडन ने भी ट्वीट किया है.

रवीना ने ट्वीट कर लिखा, ‘हृदयहीन मानव…जो भी इस निर्णय के पीछे है, आशा है कि उन्हें इस कर्म का दोगुना दंड मिलेगा।’ रवीना के इस ट्वीट पर न सिर्फ सोशल मीडिया यूजर्स समर्थन कर रहे हैं बल्कि साथ ही साथ शेयर भी कर रहे हैं.

Related Posts

बिहारः लोहिया की पुण्यतिथि पर 12 अक्टूबर को महागठबंधन का शक्ति प्रदर्शन

12 अक्ट्रबर को पटना में कार्यक्रम, तेजस्वी के शामिल होने पर संशय


रवीना के साथ-साथ एक्ट्रेस ईशा गुप्ता ने भी कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है. इंस्टाग्राम पर वायरल हो रहे वीडियो को शेयर करते हुए ईशा ने लिखा, ‘यकीन मानिए, मैं यह बिल्कुल देखना नहीं चाहती हूं, लेकिन हम क्रूरता के खिलाफ आंखें मूंद कर नहीं रह सकते हैं.’

इसे भी पढ़ेंः गिरिडीहः रिटायर्ड सीआइ की गोली मारकर हत्या, अवैध संबंध में मर्डर की आशंका

उल्लेखनीय है कि ईशा के वीडियो पर अरमान मलिक, सूरज पंचोली, ताहिर कश्यप समेत कई सेलेब्स ने दुख ज़ाहिर किया है. खबर है कि नीलगाय को जिंदा दफनाने का यह मामला 1 सितंबर का है और इस मामले के सामने आने के बाद 3 सितंबर को जांच भी शुरू की गई है.

नीलगाय को मारने का आदेश

दरअसल, नीलगायों के आतंक से बिहार में फसलों को खासा नुकसान हो रहा है. जिसे देखते हुए सरकार ने नीलगायों को मारने का आदेश जारी किया.

चार दिनों के अंदर ही 300 से ज्यादा नीलगायों को मारा जा चुका है. और इसका जिम्मा वन विभाग को ही सौंपा गया है. एक अधिकारी ने बताया कि फसलों की सुरक्षा के लिए नीलगायों को मारना जरूरी है.

इसे भी पढ़ेंः#BJP ने धनबाद में शुरू की चुनावी तैयारी, सांसद बोले- रिकॉर्ड वोट के लिए अभी से करनी होगी मेहनत

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: