न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रातू के सीएचसी अस्पताल से चोरी बच्चे का अबतक नहीं मिला सुराग, परिजन परेशान

65

Ranchi : रातू थाना क्षेत्र के सीएचसी अस्पताल से नवजात बच्चे के चोरी हो गयी थी. घटना 27 मार्च की है. इस घटना को घटे एक महिने से ज्यादा हो गया है लेकिन पुलिस अबतक इस मामले में कोई सुराग नहीं ढूंढ पायी है. एक अज्ञात महिला ने इस घटना को अंजाम दिया है. पुलिस ने चोरी करने वाली महिला का स्केच भी जारी कर दिया है. बावजूद इसके पुलिस के हाथ ना तो महिला आयी है और ना ही बच्चा मिल पाया है.

mi banner add

अपराधी महिला का स्केच तैयार

पुलिस बच्चा चोरी करने वाली महिला की तलाश लगातार आसपास के गांवों में कर रही है. वहीं, आस पास के इलाके में लगे सीसीटीवी के फुटेज को भी पुलिस खंगाल रही है. पुलिस ने बताया कि महिला की उम्र लगभग 50 होगी. महिला ने साड़ी और स्वेटर पहन रखा था और चेहरे पर उसके कुछ दाग भी थे. इधर बच्चे के नहीं मिलने से उसके परिजन काफी परेशान हैं.

इसे भी पढ़ेंःलोकसभा चुनाव 2019: क्या प्रदेश अध्यक्ष के चुनाव नहीं लड़ने की परंपरा…

क्या है मामला

रातू थाना क्षेत्र की रहने वाली महिला ममता कुमारी 26 मार्च की सुबह डिलीवरी के लिए सीएचसी अस्पताल में भर्ती हुई थी. उसने एक लड़के को जन्म दिया. बच्चे के जन्म के कुछ घंटे बाद अस्पताल में एक महिला आयी जिसने ममता से काफी अच्छी दोस्ती कर ली. बच्चे को पूरी रात अपने साथ रखा और फिर मौका मिलते ही उसे लेकर गायब हो गयी.

कई बार अस्पताल के अधिकारी भी होते हैं इसमें शामिल

राजधानी रांची के अस्पताल से बच्चा चोरी होने की घटना कोई पहली बार की नहीं है. इससे पहले भी कई अस्पतालों से बच्चा चोरी होने की घटना सामने आ चुकी है. वहीं पुलिस का इस मामले में कहना है कि कई मामलों में ऐसा भी पाया गया है कि अस्पताल से बच्चा गायब करने में वहीं के कर्मचारियों की मिली भगत होती है.

इसे भी पढ़ें – भाजपा का “मैं भी चौकीदार” कार्यक्रम 31 मार्च को, शहर भर में लगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के होर्डिंग्स

बच्चा चोरी की कुछ घटनाएं

18 सितंबर 2018 राजधानी के रानी चिल्ड्रेन अस्पताल से एक बच्चे को चार महिलाएं लेकर फरार हो गई थी. इस दौरान अस्पताल में अफरा तफरी मच गई थी. घटना के बारे में बताया जा रहा है कि बच्चे को करुणा एनएमओ आश्रम की कर्मी सुशीला देवी के हाथों से छीनकर चार महिलाएं फरार हो गईं थी. इसे लेकर हटिया निवासी मैरी तिर्की, बुधु कंडिर और दो अज्ञात लोगों के खिलाफ कोतवाली थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी.

27 अप्रैल 2017 रांची के मुरी की रहने वाली अरजा खातून ने रिम्स में बच्चे को जन्म दिया था. अस्पताल से ही उसके बच्चे को किसी महिला ने चोरी कर लिया था. पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए अस्पताल में लगे सीसीटीवी कैमरे से महिला की पहचान निकाली और फिर 24 घंटे के अंदर ही बच्चे को बरामद कर लिया था.

2 मार्च 2017 को पिठौरिया निवासी उर्मिला देवी की नवजात बच्ची रिम्स अस्पताल से चोरी कर ली गयी थी. जिसके बाद पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए आरोपी महिला रुखसाना खातून को इचाक हजारीबाग के डुमरान गांव से गिरफ्तार किया था. साथ ही बच्ची को उसकी मां उर्मिला देवी को सौंप दिया गया था.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: