न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जन वितरण प्रणाली के लाभुकों को नहीं मिल रहा है राशन

डीलर ने कहा - ऊपर से ही कटौती करके दिया जा रहा है हम लोगों को तो राशन कहां से बांटे?

68

Dhanbad: जन वितरण प्रणाली के तहत लाभुकों को दिये जानेवाले राशन में गड़बड़ी हो रही है. आरोप है कि गड़बड़ी जिला प्रशासन के अधिकारियों की मिलीभगत से हो रही है. आपको बता दें कि लाभुकों को दिए जाने वाले राशन में भारी कटौती की जा रही है. इतना ही नहीं कुछ लोगों को तो राशन दिया ही नहीं जा रहा है. पूछने पर कहा जाता है कि जितने राशन की खपत है उससे भी कम दिया जा रहा है तो हम लोग कहां से बांटें. इसलिए जितना राशन मिलता है इसी में जो जैसा आया उसी को राशन बांट देते हैं. जबकि ऑनलाइन होने से लाभुक को राशन लेने में काफी फायदा हुआ है, लाभुक जहां से चाहें वहां से राशन लेते हैं, लेकिन अधिकतर डीलरों को ही राशन कम दिया जा रहा है, इसके कारण लोगों को राशन नहीं मिल रहा है.

इसे भी पढ़ें – पत्रकारों की पिटाईः हेलमेट पहन कर पत्रकार पहुंचे थाना, प्रशासन के खिलाफ एफआइआर के लिए दिया आवेदन

कहां जा रहा है राशन?

आखिर डीलरों को मिलनेवाला राशन कहां जा रहा है? क्या हो रहा है? इसकी रिपोर्ट न तो विभाग के पास है और न ही डीलर के पास. इससे यह प्रतीत हो रहा है कि अधिकारियों की मिलीभगत से  लाभुकों को मिलनेवाले राशन में गड़बड़ी की जा रही है.

इसे भी पढ़ें – सीबीआई विवाद : सीवीसी रिपोर्ट में आलोक वर्मा को क्लीन चिट नहीं, SC ने सेामवार तक वर्मा से जवाब मांगा

सरकार चला रही है अभियान

राज्य सरकार ने लाभुकों को दिए जानेवाले राशन को लेकर एक टोल फ्री नंबर जारी कर रखा है. इतना ही नहीं विभाग के मंत्री सरयू राय भी खुद लोगों को फोन कर राशन नहीं मिलने से संबंधित शिकायत दर्ज करने का अनुरोध करते हैं ताकि लाभुकों को राशन मिल सके.

इसे भी पढ़ें – 18 साल की तुलना : 8000 हेक्टेयर में फैला है छत्तीसगढ़ का न्यू कैपिटल एरिया ‘न्यू रायपुर’

डीलर ने क्या कहा

दो डीलर ने नाम न छापने की शर्त पर कहा है कि हम लोगों के राशन के कोटे में 10 से 15 क्विंटल कटौती पिछले 3 महीने से की जा रही है. इसकी सूचना वरीय पदाधिकारी को दी तो उन्होंने कहा कि जितना मिलता है उसेमें बांट दिया करो, इसमें भी कोई नहीं मानता है तो भेज दो मेरे पास बाकी हम देख लेते हैं.

इसे भी पढ़ें – लोहरदगा: रांची में पत्रकारों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में कलम के सिपाहियों का प्रदर्शन

क्या कहते हैं एडीएम सप्लाई

एडीएम सप्लाई शशि प्रकाश झा ने कहा कि बायोमैट्रिक के जरिए जितने अंगूठे लग रहे हैं, उसी हिसाब से राशन दिया जा रहा है. राशन की खपत जिस डीलर के पास जितनी है, उतना दिया जा रहा है, अगर कोई डीलर राशन देने में आनाकानी करे तो लाभुक दूसरे डीलर से राशन ले सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: