Lead NewsRanchi

असाध्य रोग से ग्रसित रोगियों का बनेगा राशन कार्ड

  • कैंसर, एड्स और कुष्ठ रोगी राशन कार्ड के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन कर सकते हैं आवेदन
Sanjeevani

Ranchi : झारखंड के वैसे मरीज, जो किसी असाध्य रोग से ग्रसित हैं और उन्हें सरकारी पीडीएस दुकानों से राशन नहीं मिल पा रहा है, उनके लिए राज्य सरकार ने एक खास योजना बनायी है. इस योजना के तहत ऐसे असाध्य रोगों से जूझ रहे मरीजों को अब राशन दिया जायेगा.

MDLM

विभाग ने इस संदर्भ में निर्देश जारी करते हुए कहा है कि असाध्य रोग, जैसे- कैंसर, एड्स और कुष्ठ, से ग्रसित रोगी सबसे पहले राशन कार्ड के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन दें, ताकि उनका राशन कार्ड बनाने की प्रक्रिया शुरू की जा सके. कार्ड बन जाने पर इन्हें सरकारी दर पर ही राशन उपलबध कराया जा सकेगा.

इसे भी पढ़ें- गोदाम खंगाले जायेंगे, घोटाले बाहर आयेंगे

यहां करें आवेदन

इस योजना के तहत राशन कार्ड बनवाने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन, दोनों ही तरीकों से आवेदन किया जा सकता है. ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आवेदक को झारखंड सरकार के पोर्टल www.aahar.jharkhand.gov.in पर जाना होगा. वहीं, ऑफलाइन प्रक्रिया में आवेदन देने के लिए आवेदकों को उपायुक्त या जिला आपूर्ति पदाधिकारी या वार्ड पार्षद के माध्यम से आवेदन देना होगा. ये पदाधिकारी/जनप्रतिनिधि रोगी की पहचान कर सत्यापित करेंगे, जिसके बाद आगे की प्रक्रिया पूरी की जायेगी.

पहले सेक्स वर्कर्स को मिला निःशुल्क राशन

हेमंत सरकार ने पहले ही सेक्स वर्कर्स को निःशुल्क राशन देने की व्यवस्था की है. ऐसी महिलाओं को अब पीडीएस से राशन लेने के लिए पैसे देने की जरूरत नहीं पड़ेगी. ऐसी महिलाओं को अपने मुखिया या वार्ड पार्षद से सत्यापन कराने के बाद ऑनलाइन आवेदन देना होगा. उन्हें अपने कार्य का किसी भी तरह का प्रमाण देने की जरूरत नहीं है. सरकारी प्रावधानों के अनुसार उन्हें निःशुल्क सूखा राशन मिल सकेगा.

बता दें कि यह सारी व्यवस्था लॉकडाउन के बाद ऐसे परिवारों के लिए की गयी है, जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं और किसी रूप से सरकारी वेतन या पेंशन का लाभ नहीं उठा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- 15 नवंबर को पूरे राज्य में उपवास करेंगे झारखंड आंदोलनकारी

Related Articles

Back to top button